मोदी सरकार ने खत्म की ‘लाल बत्ती’ संस्कृति: नकवी

Modi government has ended vip red light culture: Naqvi

पणजी। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने रविवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अति विशिष्ट व्यक्तियों की ‘लाल बत्ती’ इस्तेमाल करने की संस्कृति को समाप्त किया।

नकवी ने मोदी के नेतृत्व में सरकार के सफलतापूर्वक चार वर्ष पूरे होने के संदर्भ में यहां एक होटल में आयोजित सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी की अपील पर एक करोड़ से अधिक लोगों ने रसोई गैस सिलिंडर पर सब्सिडी लेना बंद कर दिया और गरीब परिवारों को नि:शुल्क रसोई गैस कनेक्शन आवंटित किए गए।

‘उज्जवला योजना’ के तहत चार करोड़ से अधिक गरीब परिवारों को नि:शुल्क रसोई गैस कनेक्शन आवंटित किए गए।

नकवी ने कहा कि संसद के जलपान गृह में भी मिलने वाली रियायत को हटा दिया गया है। हज सब्सिडी खत्म कर दी गई है और इससे बचने वाली धनराशि अल्पसंख्यकों के रोजगारपरक कौशल विकास और शैक्षिणक सशक्तीकरण पर खर्च की रही है।

नकवी ने कहा कि वर्ष 2019 में प्रधानमंत्री पद के लिए कोई पद रिक्त नहीं है और मोदी देश के लोगों के लिए किए गए कल्याणकारी कार्यों के आधार पर पूर्ण जनादेश प्राप्त करेंगे। उन्होंने कहा कि मोदी विरोधी गठबंधन की एकमात्र साझा प्रतिबद्धता ‘संघर्ष, विरोधाभास और भ्रष्टाचार’ है।

नकवी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार का एजेंडा गरीबी तथा भ्रष्टाचार हटाना और विकास की ओर बढ़ना है। कुछ राजनीतिक दल बार-बार मोदी पर आरोप लगाकर जमीनी हकीकत से दूर हो गए हैं। उन्होंने कहा कि इस समय आरोप लगाने वालों और काम करने वालों के बीच मुकाबला चल रहा है। प्रधानमंत्री के कार्यों के कारण देश के लोग उनके साथ हैं।