मोदी सरकार आदिवासी हितैषी : सतीश पूनियां

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने केन्द्र की मोदी सरकार को आदिवासी हितैषी बताते हुए कहा है कि उसके सबका साथ-सबका विकास-सबका विश्वास की संकल्पबद्धता से प्रभावित होकर सभी वर्गों के साथ आदिवासी समाज भी भाजपा के साथ तेजी से जुड़ रहा है और कांग्रेस से देश की जनता का मोहभंग हो रहा है और राजस्थान व देश कांग्रेस मुक्त होने के कगार पर है।

डा पूनियां ने विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर भाजपा प्रदेश कार्यालय पर आयोजित मीन भगवान की महाआरती एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम में आज अपने संबोधन में यह बात कही। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार व भाजपा में आदिवासियों को उचित प्रधिनिधित्व व मान-सम्मान दिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में देश के सभी वर्गों के उत्थान के लिये कल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही हैं, साथ ही आदिवासियों को शिक्षा व आर्थिक उन्नति के लिए भी मोदी सरकार कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से लाभ दे रही है।

उन्होंने कहा कि महान स्वतंत्रता सेनानी बिरसा मुंडा, भूला वालोरिया आदि ने देश की आजादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के साथ आदिवासी समाज के उत्थान में बड़ी भूमिका निभाई। आजादी के आंदोलनों से लेकर अनवरत आदिवासी समाज का प्रकृति प्रेम, त्याग व समर्पण हम सबके लिये प्रेरणादायी है।

उन्होंने कहा कि राजनीतिक दल ने पहली बार अपने स्तर पर आदिवासी दिवस मनाया। उन्होंने आयोजन के लिए एसटी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष जितेन्द्र मीणा और समस्त आदिवासी समाज को विश्व आदिवासी दिवस की बधाई दी।

इस मौके पार्टी के प्रदेश संगठन महामंत्री चन्द्रशेखर ने कहा कि भाजपा आदिवासियों की हितेषी रही है, जिसका उदाहरण मोदी सरकार 2.0 में अनुसूचित जनजाति के आठ मंत्री हैं, जो आदिवासी समाज का प्रतिनिधत्व करते हैं।

भाजपा अनुसूचित जन जाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष जितेन्द्र मीणा ने कहा कि भारतीय राजनीति के इतिहास में भाजपा देश की पहली ऐसी पार्टी है, जिसने आदिवासी स्वाभिमान को सम्मान देने हेतु विश्व आदिवासी महोत्सव पार्टी कार्यालय में मनाया।

इस अवसर पर डॉ. पूनियां की मौजूदगी में बस्सी, चाकसू और जमवारामगढ़ के सैकड़ों लोगों को भाजपा की सदस्यता ग्रहण करवाई गई।