मोदी नारे गढने, स्वप्रचार में अव्वल, काम में फेल : राहुल गांधी

Modi master self-promoter, poor nation builder : Rahul Gandhi in his report card for NDA

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के देश भर में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार की चार साल की उपलब्धियों का बखान करने के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी नारे गढने और स्वप्रचार में अव्वल हैं लेकिन कृषि, रोजगार, ईंधन कीमतों और विदेश नीति जैसे मोर्चों पर पूरी तरह फेल रहे हैं।

गांधी ने शनिवार को टि्वटर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार का ‘रिपोर्ट कार्ड’ पेश करते हुए उन्हें ‘योग’ के मोर्चे पर थोडा अच्छा बताते हुए ‘बी’ ग्रेड दिया है।

समय-समय पर सोशल मीडिया पर मोदी के साथ सवाल-जवाब करने वाले गांधी ने स्कूल अध्यापक की तर्ज पर प्रधानमंत्री को विदेश नीति, कृषि और ईंधन की कीमत आदि विषयों में ग्रेड दिए हैं। उन्होंने कहा है कि प्रधानमंत्री नारे गढने तथा स्वप्रचार और योग जैसी इतर गतिविधियों में अच्छे हैं।

उन्होंने श्री मोदी के रिपोर्ट कार्ड में इस तरह से ग्रेड दिए हैं, कृषि-एफ, विदेश नीति-एफ, ईंधन नीति-एफ, रोजगार-एफ, नारे गढना-ए प्लस, स्व प्रचार-ए प्लस और योग में बी नेगेटिव। टिप्पणी में उन्होंने लिखा है: जटिल मुद्दों पर अटक जाते हैं, पूरी तरह ध्यान केन्द्रीत नहीं कर पाते।

भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन ने 2014 के आम चुनाव में भारी बहुमत हासिल कर 26 मई को मोदी के नेतृत्व में सरकार गठित की थी।