मनोरा की तरह वीर झाड़ोली हत्या का मोडस ऑपरेंडी, एसपी ने बताई गिरफ्तारी एसएचओ की मनाही

Sirohi, हत्या, murder,
Veer jhadoli murder case

सबगुरु न्यूज-सिरोही। वीर झाड़ोली हत्याकांड का मोडस ऑपरेंडी (हत्या करने का तरीका और मकसद) 2015 में मनोरा में लूट के लिए वृद्धा की हत्या से काफी मिलताजुलता लग रहा है। इसी कारण पुलिस संदिग्धों की तलाश उसी आंध्र पर कर रही है।

इधर, इस प्रकरण में पुलिस अधीक्षक एक व्यक्ति की गिरफ्तारी की बात कह रहे हैं तो बरलूट के एसएचओ बाबूलाल राणा किसी तरह की गिरफ्तारी से इनकार किया है। इस प्रकरण में आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सुबह ग्रामीणों ने धरना भी दिया था और मृतक का पोस्टमार्टम करवाने से भी मना कर दिया था। बाद में मामला खुलने के करीब होने की जानकारी मिलने पर वे पोस्टमार्टम को राजी हो गए थे।
वीर झाड़ोली में गुरुवार रात को हुई हत्या को लेकर मृतक के परिजनों और ग्रामीणों ने शनिवार को रोड जताया। इन लोगों ने हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए मृतका के शव के पोस्टमार्टम से इनकार कर दिया था। पुलिस द्वारा समझाइश करने पर वे पोस्टमार्टम के लिए तैयार हो गए। बाद में महिला का पोस्टमार्टम करके उसका शव परिजनों को सौंप दिया गया है।
पुलिस विभाग से इस मामले में गिरफ्तारी को लेकर दो अलग-अलग बातें सामने आ रही है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। वहीं बरलूट एसएचओ का कहना है कि अभी किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है। प्रकरण से जुड़े संदिग्धों से पूछताछ कर रही हैं। सबगुरु न्यूज ने शुक्रवार को ही खुलासा कर दिया था कि इस प्रकरण में जालोर पुलिस की मदद से एक युवक को हिरासत में लिया गया था।

-नजर मध्य प्रदेश से जुड़े लोगों पर
इस हत्याकांड का मोडस ऑपरेंडी मनोरा में 3 साल पहले हुए हत्याकांड से के काफी मिलता जुलता है। ऐसे में पुलिस इसी केस को बेस मानते हुए ऊनी जांच आगे बढ़ रही है। क्षेत्र भवन मध्यप्रदेश से जुड़े लोगों व मजदूरों की जानकारी जुटाकर उनकी तहकीकात कर रही है। संदिग्धों को भी जांच के घेरे में रखा गया है।
-सीसीटीवी फुटेज में भी संदिग्ध
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि प्रकरण काफी हद तक खुलने के करीब है। उन्होंने बताया कि कैलाशनगर के एक सीसीटीवी से फुटेज जुटाए गए हैं। इसमे टोपी पहना हुआ एक युवक पुलिस की जांच की प्राथमिकता में है।