जैसलमेर फायरिंग रेंज में तोप के 400 जिंदा गोले बरामद

सेना के फायरिंग रेंज में तोप के 400 से अधिक जिन्दा गोले बरामद
सेना के फायरिंग रेंज में तोप के 400 से अधिक जिन्दा गोले बरामद

जैसलमेर। राजस्थान के सीमावर्ती जैसलमेर के सेना के फायरिंग रेंज में मंगलवार को बोफोर्स और 19 एफएडी के 400 से अधिक जिंदा गोले बरामद हुए हैं।

सेना की खुफिया विंग द्वारा समय रहते फायरिंग रेंज में इन गोलों के बरामद करने से क्षेत्र में बडा हादसा होने से बच गया। बताया जाता है कि इन गोलो को स्क्रैप ठेकेदार हीरा राम द्वारा मैदान में नष्ट किए जाने की कार्यवाही की जा रही थी।

फायरिंग रेंज में इतनी बडी मात्रा में जिंदा तोप के गोले मिलने से सेना में हडकंप मच गया है और घटना की जानकारी मिलने पर लेफ्टिनेंट कर्नल सहित सेना के बडे अधिकारी मौके पर पहुंच गए।

सेना के सूत्रों के अनुसार स्क्रेप ठेकेदार के पास से इतनी बडी मात्रा में जिंदा बम मिलना बडी चूक मानी जा रही है। सेना ने फायरिंग रेंज को सील कर क्षेत्र में आवाजाही पर रोक लगा दी है।

लाठी पुलिस थानाधिकारी राजू राम ने बताया कि सेना की ओर से फायरिंग रेंज में तोप के जिंदा गोले मिलने की सूचना मिली थी। उन्होंने बताया कि यह तोप के गोले सेना का स्क्रैप खरीदने वाले ठेकेदार हीरा राम से मिले।

ठेकेदार आज इन गोलों को फायरिंग रेंज में ही नष्ट करने वाला था लेकिन सेना की खुफिया विंग ने इसमें जिंदा बम को देखकर इसे नष्ट करने की कार्रवाई रूकवा दी।

उन्होंने बताया कि सेना की ओर से अभी यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि स्क्रैप ठेकेदार गोला बारूद खरीदने का अधिकृत था या नहीं।