मेडिकल कॉलेज शिलान्यास कार्यक्रम को गंदी राजनीति की भेंट चढ़ाने की कोशिश हुई : सांसद पटेल

पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते सांसद देवजी पटेल।
पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते सांसद देवजी पटेल।

सिरोही। राजस्थान के जालौर-सिरोही सांसद देवजी एम पटेल ने देवनगरी में बनने जा रहे मेडिकल कॉलेज को प्रधानमंत्री की ओर से सिरोही जिले को बड़ी सौगात बताते हुए निर्दलीय विधायक सहित कांग्रेस नेताओं पर झूठ फैलाने का आरोप लगाया और कहा कि प्रधानमंत्री ने आज वर्चुअल शिलान्यास के उद्बोधन में इनके मिथ्या प्रचार से पर्दा उठा दिया है।

उन्होंने पत्रकार वार्ता में मीडियाकर्मियों से मुखातिब होकर कहा कि जनता ने भी हमारे काम की सराहना की है और प्रेम व विश्वास पंचायत चुनाव में भी दर्शाया है। सांसद ने कांग्रेसियों के हुड़दंग व निर्दलीय विधायक के झूठ फैलाने की बात कह तंज कसते हुए कहा कि मोदी सरकार में हो रहे विकास कार्य इनको हजम नहीं हो रहे और वे बौखला गए हैं।

जिला अस्पताल को मेडिकल कॉलेज मे उन्नत करने के साथ देवनगरी सिरोही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कर कमलों से मेडिकल कॉलेज के शिलान्यास कार्यक्रम के बाद जालौर-सिरोही सांसद पटेल ने पत्रकारों से मुखातिब होकर कार्यक्रम की अव्यवस्थाओं को लेकर सवाल खड़े किए और निर्दलीय विधायक सहित शासन प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए।

सांसद ने कहा कि सिरोही जिले के लिए आज गौरव का दिन है कि इस पिछड़े जिले को आकांक्षी जिला घोषित करने के बाद बहुआयामी मेडिकल कॉलेज की सौगात मिली है लेकिन शिलान्यास कार्यक्रम को प्रशासन ने छोटा रूप देकर सीमित रखने का प्रयास किया यह समझ से परे है।

सांसद ने भाजपा के पूर्व विधायक ओटाराम देवासी, पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष तारा भंडारी एवं वरिष्ठजनों को कार्यक्रम हॉल में प्रवेश से रोकने के प्रयास की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि इस बड़ी उपलब्धि के लिए कार्यक्रम भी बड़ा होना चाहिए था लेकिन राज्य सरकार की नियत में खोट है इसलिए कार्यक्रम से जनभागीदारी को दूर करने के हथकंडे अपनाए गए।

उन्होंने मीडिया कवरेज के लिए आए पत्रकारों को भी इससे दूर रखने के कृत्य की भर्त्सना की। सांसद ने निर्दलीय विधायक की तरफ इशारा करते हुए कहा कि तथाकथित नेता की गंदी राजनीति के दबाव में प्रशासन को नहीं आना चाहिए।

सांसद ने आरोपों में कहा कि अगर कार्यक्रम का प्रचार हो जाता या इस उपलब्धि का व्यापक जनता पर असर हो रहा है, कुछ लोगों को तकलीफ हो रही है। इसलिए शिलान्यास कार्यक्रम को संक्षिप्त करने के प्रयास हुए। उन्होंने कहा कि प्रशासन ने भी मनमानी करके गलत का साथ दिया है।

घटनाक्रम के बाद कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस पतन की ओर बढ़ रही है और हमने जनता के विश्वास और आशीर्वाद से शिवगंज में भी पहली बार प्रधान बनाया और जिले में पंचायती राज चुनाव में पार्टी का परचम लहराया है तथा आगे भी विकास को प्राथमिकता देकर हम जन आकांक्षाओं की पूर्ति के लिए निस्वार्थ भाव से जनता की सेवा में तत्पर रहेंगे।

मेडिकल कॉलेज की चर्चा करते हुए उन्होंने बताया कि वे 2015 से इसके लिए प्रयास कर रहे हैं और संसदीय क्षेत्र में कॉलेज खोलने की मांग लोकसभा के शून्य काल में उन्होंने उठाई थी जिसे केंद्रीय वित्तमंत्री ने बजट घोषणा में पूरा किया था। सांसद ने विश्वास प्रकट करते हुए बताया कि जालौर में भी चिकित्सा को लेकर आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास जारी है और आने वाले दिनों में मेडिकल कॉलेज की सौगात जालौर को मिलेगी।

देवजी पटेल ने गिनाई उपलब्धियां

सांसद देवजी एम पटेल ने अपने कार्यकाल की कुछ उपलब्धियां बताते हुए कहा कि कांग्रेस ने कभी सिरोही जिले के समग्र विकास की ओर गंभीरता से ध्यान नहीं दिया और अब जनता के सपनों को पूरा करने का काम मोदी सरकार में हो रहा है।

उन्होंने बताया कि पिण्डवाड़ा क्षेत्र के लोगों की बरसों की मांग को पूरा कर रेलवे स्टेशन के रूप में पिंडवाड़ा नाम को पहचान दिलवाई और कई रेल का ठहराव करवाया। इसी प्रकार आबूरोड शहर को जोड़ने तथा यातायात को सुगम बनाने की दृष्टि से आरओबी का निर्माण और आदर्श रेलवे स्टेशन घोषित करवाया। उन्होंने कहा कि पिंडवाड़ा बायपास का निर्माण व जिले में प्रधानमंत्री सड़क योजनाओ का जाल बिछा है।

पहले फेज में 41 सड़के स्वीकृति हुई थी उसके बाद फेस 2 व 3 में भी काफी सड़कें स्वीकृत हुई है जिसमें हमारे विधायक व पूर्व विधायकों ने भी अथक प्रयास किए। सांसद ने बताया कि तीनों विधानसभा क्षेत्रों में महाविद्यालय खोलने के लिए वसुंधरा सरकार धन्यवाद के पात्र है तथा पेयजल संकट से उबारने के लिए बत्तीसा नाला के बड़े प्रोजेक्ट के रूप में सौगात देकर नींव रखी गई।

इसी प्रकार पहले संसदीय क्षेत्र मे माउंट आबू में एक केंद्रीय विद्यालय था जिस में इजाफा करवा कर एक जालौर में भी खुलवाया। ट्रायबल क्षेत्र की मांग के तहत टीएसपी की घोषणा, भाखर क्षेत्रों में बीएसएनएल मोबाइल टावर, सालगांव परियोजना तथा माउंट आबू का मास्टर प्लान बनवाकर लागू करवाने में उल्लेखनीय भूमिका निभाई।

उन्होंने बताया कि गुजरात जाने वाली पानी को रोककर क्षेत्र के लोगों को उसका लाभ मिले उसके लिए योजनाबद्ध तरीके से हमने उसका क्रियान्वित कराने का काम किया। इस मौके पर पूर्व मंत्री ओटाराम देवासी, विधानसभा पूर्व उपाध्यक्ष तारा भंडारी, जागसीराम कोली, जिला प्रमुख अर्जुनराम पुरोहित, चिराग रावल एवं भाजपा नगर अध्यक्ष लोकेश खंडेलवाल मौजूद थे।