सिरोही में सांसद और विधायक दोनों मैदान में, अंतर बस इतना

patel and lodha
patel and lodha

सबगुरु न्यूज-सिरोही। जालोर सांसद देवजी पटेल और सिरोही के विधायक संयम लोढ़ा दोनों ही नगर परिषद चुनावों को लेकर चुनाव मैदान में हैं। अंतर सिर्फ इतना है कि सांसद अब रूठों को मनाने में लगे हैं तो विधायक रूठों को मनाकर साथ में रोड शो पर।

सिरोही में टिकिट वितरण को लेकर भाजपा में जबरदस्त आक्रोश था। एक वार्ड के टिकिट को लेकर प्रदेश स्तर तक थू-थू करवाने के बाद भाजपा को स्थानीय सक्रिय कार्यकर्ताओं की नाराजगी के मोर्चे पर भी मायूसी झेलनी पड़ रही है। सिरोही नगर पर्यवेक्षक, जिलाध्यक्ष, पूर्व अध्यक्ष, पूर्व विधायक भी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के गुस्से का सामना करने से कतरा रहे हैं। कुछ कार्यकर्ता बागी के रूप में खड़े हो चुके हैं तो कुछ ने बगावती तेवर अपनाते हुए अपने प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए भाजपा के प्रत्याशियों के खिलाफ काम करना शुरू कर दिया।

ऐसे में सांसद देवजी पटेल को रूठों को मनाने की जवाबदारी उठानी पड़ी। सांसद ने सोमवार को रूठे हुए कार्यकर्ताओं को मनाने के लिए उनके घरों पर जाकर चाय पर चर्चा की। फिलहाल भाजपा के नेताओं की सिरोही में कोई बड़े शो या प्रचार कार्यक्रम की आधिकारिक सूचना नहीं आई है। प्रत्याशी अपने-अपने वार्डों में प्रचार में लगे हुए हैं। सोमवार को जिला प्रमुख पायल परसरामपुरिया ने विरेन्द्रसिंह चौहान, अशोक पुरोहित आदि के वार्डों में जनसंपर्क किया था।

jitendra khatri
jitendra khatri

सिरोही विधायक संमय लोढ़ा ने अप्रत्याशित तरीके से कांग्रेस जिलाध्यक्ष और कांग्रेस जे खेमे के लोगों के साथ मंगलवार को रोड शो किया। इससे पहले सिरोही विधायक के साथ जिलाध्यक्ष ने कांग्रेस के केंद्रीय कार्यालय का भी उद्घाटन किया था। चुनाव के लिए सामग्री वितरण से लेकर हर कार्य का वही केन्द्रीकृत तरीका अपनाया जा रहा है जो कभी भाजपा की पहचान हुआ करता था।

फिलहाल कांग्रेस विधायक के साथ एकजुट तो भाजपा 2024 की तैयारी की साजिशों के कारण बिखरी-बिखरी दिख रही है। इधर, पोस्टर वार में एक कदम आगे बढ़ते हुए कांग्रेस के रोड शो में एक ऐसा पोस्टर नजर आया जिसके सवालों के जवाब भाजपा के लिए समस्या खड़ा कर सकते हैं।