सौरभ गांगुली को मामूली अंतर से पछाड़ धोनी बने भारत के सर्वश्रेष्ठ कप्तान

MS Dhoni beats Sourav Ganguly by significant margins to in battle of the best captains

नई दिल्ली। भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पूर्व कप्तान औऱ भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष सौरभ गांगुली को एक सर्वे में मामूली अंतर से पछाड़कर भारत के सर्वश्रेष्ठ कप्तान चुने गए हैं।

गांगुली और धोनी दोनों ही भारत के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक रहे हैं और दोनों के ही नेतृत्व में भारतीय टीम ने कई बार यादगार जीत हासिल की है। गांगुली की कप्तानी में जहां भारतीय टीम 2003 में विश्वकप की उपविजेता बनी थी जबकि धोनी के नेतृत्व में टीम इंडिया ने 2011 में विश्वकप का खिताब जीता था। धोनी के नेतृत्व में भारतीय टीम ने 2007 टी-20 विश्वकप और 2013 में चैंपियंस ट्राफी का खिताब भी जीता था।

गांगुली और धोनी के बीच स्टार स्पोर्ट्स ने आठ वर्ग में सर्वे किया और हर वर्ग का औसत निकाला गया। गांगुली ने विदेशी जमीन पर कप्तानी, टीम पर कप्तानी का परिवर्तनकारी प्रभाव, अगले कप्तान को सफल टीम सौंपना और ओवरऑल प्रभाव वर्ग में धोनी को पछाड़ा जबकि धोनी घर में कप्तानी, वनडे कप्तानी, खिताब जीतना और टीम के कप्तान के रुप में बल्लेबाज के तौर पर खेलना जैसे वर्ग में गांगुली से आगे रहे।

ग्रीम स्मिथ, कुमार संगकारा, गौतम गंभीर, इरफान पठान और कृष्णामाचारी श्रीकांत जैसे दिग्गज क्रिकेटरों ने इस सर्वे में भाग लिया। दुनियाभर से खिलाड़ियों, लेखक और प्रसारकों की जूरी ने आठ वर्ग में हर एक खिलाड़ी को 10 में से अंक दिए।

दोनों के अंक मिलाने पर गांगुली को कुल 60.5 और धोनी को 60.9 अंक मिले जिससे धोनी गांगुली को 0.4 के मामूली अंतर से पराजित कर भारत के सर्वश्रेष्ठ कप्तान बने। भारतीय सरजमीं पर टेस्ट कप्तानी रिकॉर्ड पर स्मिथ ने कहा कि मुझे जहां तक याद है गांगुली टीम में एक कठोरता लाए जो पहले नहीं थी। वह मैदान पर अपनी भूमिका बखूबी निभाते थे और वह भारतीय क्रिकेट की मजबूती का एक अहम स्तम्भ हैं।

इस पर श्रीकांत ने कहा कि मेरे ख्याल से धोनी औऱ गांगुली के बीच तुलना करना कठिन है। 2001 में गांगुली के नेतृत्व में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को हराया लेकिन कुल प्रभाव देखें तो मेरे ख्याल से भारतीय सरजमीं पर धोनी आगे हैं क्योंकि गांगुली के समय टीम में अनिल कुंबले और हरभजन सिंह जैसे दिग्गज स्पिन गेंदबाज थे लेकिन धोनी के पास यह विकल्प मौजूद नहीं थे।

श्रीलंका के पूर्व कप्तान संगकारा ने गांगुली की सराहना करते हुए कहा कि गांगुली ने भारतीय टीम को मजबूती और आत्मविश्वास दिया। मेरे ख्याल से सभी टीमें घर में जीतने में आरामदायक महसूस करती हूं लेकिन विश्व की बेहतरीन टीमों के खिलाफ विदेशी जमीन पर टेस्ट जीतना सुखद अनुभव है और उसके लिए जीत की भूख और विश्वास चाहिए। मेरे ख्याल से दादा भारतीय क्रिकेट में इस बड़े बदलाव को लाए हैं।

कप्तान के रुप में ओवरऑल प्रभाव पर गंभीर ने कहा कि जाहिर है कि धोनी और गांगुली दोनों ही खिलाड़ियों ने भारतीय टीम को आगे ले जाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है लेकिन प्रभाव के तौर पर देखें तो मैं सिर्फ धोनी के लिए कह सकता हूं क्योंकि वह भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने के लिए काफी गंभीर थे।