मुलायम के करीबी रामफल वाल्मीकि ने सैफई प्रधान के लिए किया नामांकन

Mulayam close Ramphal Valmiki nominated for Saifai Pradhan
Mulayam close Ramphal Valmiki nominated for Saifai Pradhan

इटावा। उत्तर प्रदेश भर में सर्वाधिक चर्चित मानी जाने वाली समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के गांव सैफई से प्रधान पद के लिए रामफल वाल्मीकी ने नामांकन कर दिया है। उनके निर्विरोध प्रधान निर्वाचित होने की संभावनाएं जताई जा रही है।

प्रधान पद का नामांकन करने वाले रामफल बाल्मीकी समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के बेहद करीबी है। 1967 से मुलायम सिंह यादव से जुडे रामफल बाल्मीकी की पत्नी इससे पहले कई दफा जिला पंचायत सदस्य रह चुकी है।

सैफई गांव के प्रधान पद के लिए पहली दफा अनसूचित जाति के लिए आरक्षित किये जाने पर रामफल बाल्मीकी को सपा प्रमुख और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हरी झंडी दी है।

इससे पहले मुलायम सिंह के दोस्त दर्शन सिंह 1972 से प्रधान निर्वाचित होते आये है। पिछले साल अक्टूबर में दर्शन सिंह की मौत के बाद प्रधान सीट रिजर्व हो गयी है।

रामफल बाल्मीकि ने नामांकन करते समय कहा कि 1967 से नेता जी सेवा में रहे है। नेता जी के साथ क्रांति रथ में भी घूम चुके है। उन्होंने सैफई के पूर्व प्रधान दर्शन सिंह यादव को अपना भाई और प्रेरणा स्रोत बताते हुए कहा कि दर्शन सिंह यादव भले ही आज इस दुनिया में ना हो लेकिन वो हमेशा हमारे गुरु प्रेरणा स्रोत और अभिभावक बने रहेंगे। उनके निधन पर बहुत दुख है लेकिन मृत्यु का कोई निश्चित समय नही होता है।

वर्तमान प्रधान मीना ने रामफल का स्वागत करते हुए कहा कि भले ही हमारे बाबा चले गए हो लेकिन हमारे दूसरे बाबा आज हमारे बीच प्रधान के रूप में मौजूद है।

रामफल का कहना है कि सैफई के सभी वासियों ने मिलकर के उनको निर्विरोध प्रधान निर्वाचित कराया है।

रामफल ने समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव,अखिलेश यादव, प्रो.रामगोपाल यादव, शिवपाल सिंह यादव, धर्मेंद्र यादव, तेज प्रताप यादव, अंकित यादव, मीना यादव का बहुत बहुत आभार प्रकट किया है।