पंचतत्व में विलीन हुए मुलायम सिंह यादव, अखिलेश ने दी मुखाग्नि

इटावा।  उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ समाजवादी नेता मुलायम सिंह यादव का अंतिम संस्कार मंगलवार को इटावा स्थित उनके पैतृक गांव सैंफई में किए जाने के साथ ही ‘नेताजी’ के उपनाम से लोकप्रिय यादव का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन हो गया।

पूरे विधि विधान से उनका अंतिम संस्कार किए जाने से पूर्व यादव के पुत्र एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उन्हें मुखाग्नि दी। इस मौके पर मुलायम परिवार के सभी सदस्य मौजूद थे। अखिलेश के अलावा उनके भतीजे धर्मेन्द्र यादव, आदित्य यादव एवं अक्षय यादव ने भी अर्थी को कंधा दिया। इस दौरान उपस्थित रहे परिवार के अन्य सदस्यों में पुत्रवधू डिंपल यादव, भाई रामगोपाल यादव, शिवपाल सिंह यादव एवं दूसरी पत्नी स्व साधना गुप्ता के पुत्र प्रतीक एवं पुत्रवधू अपर्णा यादव सहित अन्य परिजन शामिल हैं।

इससे पहले नेताजी को श्रृद्धांजलि अर्पित करने वालों में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, एनसीपी के अध्यक्ष शरद पवार और विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री एवं अन्य नेता शामिल हैं। इस दौरान अपनी प्रतिक्रिया में राजनाथ सिंह ने कहा कि मुलायम सिंह यादव से हमारे बहुत अच्छे रिश्ते थे। मुलायम सिंह जी को धरती से जुड़ा हुआ नेता माना जाता था। उनके जाने से भारत की राजनीति को बहुत बड़ी क्षति हुई है।

सैंफई मेला ग्राउंड के पंडाल में आज दोपहर मुलायम सिंह का पार्थिव देह लाए जाने के बाद उन्हें श्रृद्धासुमन अर्पित करने वालों का तांता लग गया। इस दौरान राजनाथ, बिरला और पवार के अलावा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव, उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और बृजेश पाठक के अलावा बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ, आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, राज्यसभा सदस्य जया बच्चन, उनके अभिनेता पुत्र अभिषेक बच्चन और उद्योगपति अनिल अंबानी एवं सुब्रत राय सहारा के अलावा अन्य लोगों ने यादव को श्रृद्धा सुमन अर्पित किए।

इस दौरान प्रदेश के उपमुख्यमंत्री पाठक ने कहा कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव जी का निधन अत्यंत दुःखद है आज सैफई पहुंचकर अपनी गहरी शोक संवेदनाएं व्यक्त कर, पार्थिव शरीर को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए ईश्वर से पुण्यात्मा की शांति एवं सद्गति हेतु प्रार्थना की।

सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान ने यादव के पार्थिव शरीर को उनके आवास पर अंतिम श्रृद्धांजलि अर्पित की। इस बीच योग गुरु बाबा रामदेव, एनसीपी के नेता प्रफुल्ल पटेल, कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, भाजपा सांसद वरूण गांधी और आप के सांसद संजय सिंह ने भी नेताजी को श्रद्धांजलि अर्पित की।

नेताजी के उपनाम से लोकप्रिय सपा संस्थापक मुलायम सिंह को चाहने वाले हर आम और खास, मंगलवार को सुबह से ही सैंफई के मेला ग्रांउड स्थित पंडाल में एकत्र हो गए थे। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक दिन में 11 बजे उनके पार्थिव शरीर को गांव के मेला पंडाल में अंतिम दर्शनों के लिए ले जाया गया।

गौरतलब है कि 83 वर्षीय यादव का निधन सोमवार को सुबह लगभग सवा आठ बजे गुरुग्राम स्थित मेदांता अस्पताल में हो गया था। वह पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे थे। उनके पार्थिव शरीर को कल ही पैतृक गांव सैंफई स्थित उनके आवास पर लाया गया। जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य सरकार की ओर से नेताजी को श्रृद्धांजलि अर्पित की।

आज सुबह लगभग साढ़े दस बजे उनके पार्थिव शरीर को आवास से अंतिम यात्रा के लिए लाकर शव वाहन पर रखा गया। हजारों की संख्या में वाहन के साथ चल रहे उनके समर्थक अपने प्रिय नेताजी की याद में जयकार के नारे लगाते हुए शव यात्रा के साथ आगे बढ़ेे। पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शनों के लिये मेला ग्राउंड के पंडाल में रखा गया। जहां विभिन्न दलों के नेताओं और केन्द्रीय मंत्रियों ने उनके अंतिम दर्शन किए।