मुंबई शेयर बाजार शुरुआती बढ़त के बाद लुढ़का शेयर बाजार

Sensex returns after touching peak volatility in stock markets, slight fall in Nifty
Mumbai stock market after the initial gains the stock market rolled down

मुंबई। विदेशों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच घरेलू शेयर बाजार शुक्रवार सुबह बढ़त में खुले लेकिन कमजोर आर्थिक आँकड़ों के दबाव में अंतत: आधा फीसदी की गिरावट में बंद हुये।

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 202.05 अंक यानी 0.49 प्रतिशत की गिरावट के साथ 41,257.74 अंक पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 61.20 अंक यानी 0.50 फीसदी टूटकर 12,113.45 अंक पर आ गया।

थोक महँगाई नौ महीने के उच्चतम स्तर पर पहुँचने के कारण बाजार में निवेशकों की धारणा कमजोर हो गयी। खासकर खाद्य पदार्थों की थोक महँगाई दर भी दहाई अंक में रही। इससे बाजार में बिकवाली का जोर बढ़ गया। यूटिलिटीज, बिजली, धातु और एफएमसीजी समूहों में एक से तीन प्रतिशत के बीच गिरावट रही। इंडसइंड बैंक के शेयर साढ़े चार प्रतिशत, पावरग्रिड के सवा तीन प्रतिशत और भारतीय स्टेट बैंक के ढाई प्रतिशत गिरे। दूरसंचार समूह में ढाई प्रतिशत की तेजी के बीच भारती एयरटेल के शेयर साढ़े चार फीसदी से अधिक चढ़े।

मझौली और छोटी कंपनियों में भी बिकवाली का दबाव रहा। बीएसई का मिडकैप 0.79 प्रतिशत लुढ़ककर 15,662.10 अंक पर और स्मॉलकैप 0.40 प्रतिशत टूटकर 14,682.65 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स 50.40 अंक की तेजी के साथ 41,510.19 अंक पर खुला और दोपहर से पहले ही 41,702.36 अंक पर पहुंच गया। थोक महंगाई बढ़ने के आंकड़े आने के बाद बाजार में बिकवाली हावी हो गयी। इससे बाजार 41,183.13 अंक तक उतर गया। अंत में यह गत दिवस की तुलना में 202.05 अंक नीचे 41,257.74 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई में कुल 2,709 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,628 गिरावट में और 912 बढ़त में रहे जबकि 169 कंपनियों के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित बंद हुये।

निफ्टी 15.50 अंक की बढ़त में 12,190.15 अंक पर खुला। इसका दिवस का उच्चतम स्तर 12,246.70 अंक और निचला स्तर 12,091.20 अंक रहा। अंत में यह गुरुवार की तुलना में 61.20 अंक लुढ़ककर 12,113.45 अंक पर रहा। निफ्टी की 50 में से 35 कंपनियों के शेयर लाल निशान में और 15 कंपनियों के हरे निशान में बंद हुये।

विदेशों में अधिकतर प्रमुख शेयर बाजार हरे निशान में रहे। एशिया में दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.48 प्रतिशत, चीन का शंघाई कंपोजिट 0.38 प्रतिशत और हांगकांग का हैंगसेंग 0.31 प्रतिशत की बढ़त में बंद हुआ। जापान का निक्की 0.59 प्रतिशत लुढ़क गया। यूरोप में शुरुआती कारोबार में जर्मनी का डैक्स 0.21 फीसदी और ब्रिटेन का एफटीएसई 0.11 प्रतिशत मजबूत हुआ।

बीएसई के यूटिलिटीज समूह का सूचकांक 2.58 फीसदी, बिजली का 2.31, धातु का 1.48, एफएमसीजी का 1.25, ऑटो का 1.19, बैंकिंग का 1.11 और रियलिटी का 1.08 प्रतिशत लुढ़का। दूरसंचार समूह में 2.50 प्रतिशत की तेजी रही।

सेंसेक्स की कंपनियों में इंडसइंड के शेयर 4.38 प्रतिशत टूटे। पावरग्रिड में 3.26 प्रतिशत, भारतीय स्टेट बैंक में 2.41, हीरो मोटोकॉर्प में 2.17, एनटीपीसी में 2.00, ओएनजीसी में 1.99, आईटीसी में 1.98, महिंद्रा एंड महिंद्रा में 1.91, एचडीएफसी बैंक में 1.77, टाटा स्टील में 1.55, एक्सिस बैंक में 1.50, मारुति सुजुकी में 1.24 और हिंदुस्तान यूनिलिवर में 1.07 प्रतिशत की गिरावट रही।

इंफोसिस के शेयर 0.78 फीसदी, टाइटन के 0.50, कोटक महिंद्रा बैंक के 0.46, अल्ट्राटेक सीमेंट के 0.46, नेस्ले इंडिया के 0.41, टीसीएस के 0.36, बजाज फाइनेंस के 0.26, सनफार्मा के 0.12 और एचडीएफसी के 0.10 प्रतिशत टूटे।

मुनाफे में रहने वालों में भारती एयरटेल के शेयर 4.69 प्रतिशत चढ़े। एचसीएल टेक्नोलॉजीज में 1.42 प्रतिशत, आईसीआईसीआई बैंक में 0.90, रिलायंस इंडस्ट्रीज में 0.86, टेक महिंद्रा में 0.72, बजाज ऑटो में 0.27, एलएंडटी में 0.21 और एशियन पेंट्स में 0.17 प्रतिशत की तेजी रही।