शेयर बाजार ने फिर बनाया नया रिकॉर्ड, सेंसेक्स 60 हजार अंक के पार

मुंबई। कर्ज के बोझ से दबी चीन की रियल्टी क्षेत्र की दूसरी बड़ी कंपनी एवरग्रैनेड पर जल्द ही नियामक की कार्रवाई होने की अटकलों से विदेशी बाजारों में आई गिरावट के बावजूद स्थानीय स्तर पर एशियन पेंट, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एचसीएल टेक, एचडीएफसी बैंक, भारती एयरटेल, मारुति और इंफोसिस में मजबूत लिवाली के दम पर आज 60 हजार अंक को पार कर शेयर बाजार ने नया इतिहास रच दिया।

बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सर्वकालिक 60,333 अंक के उच्चतम स्तर पर पहुंचने के बाद बिकवाली के बावजूद 163.11 अंक चढ़कर अबतक के रिकॉर्ड 60,048.47 अंक पर रहा। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 30.25 अंक की मामूली बढ़त लेकर 17853.20 अंक पर रहा।

दिगग्ज कंपनियों के विपरीत छाेटी और मझौली कंपनियों में हुई अधिक बिकवाली ने शेयर बाजार की रफ्तार को धीमा कर दिया। इस दौरान बीएसई की मिडकैप 294.86 अंक लुढ़ककर 25,194.84 अंक पर और स्मॉलकैप 85.58 अंक उतरकर 28,023.34 अंक पर रहा।

बीएसई में कुल 3422 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 1329 तेजी में और 1940 गिरावट पर रहे जबकि 153 के भाव स्थिर रहे। इसी तरह एनएसई में 20 कंपनियां बढ़त पर रहे जबकि 30 के भाव गिर गये।

बीएसई के सात समूह में तेजी रही जबकि शेष 12 के भाव उतर गये। इस दौरान दूरसंचार समूह मे सबसे अधिक 2.77 प्रतिशत की तेजी रही। साथ ही रियल्टी 1.69, टेक 1.08, आईटी 0.85, सीडीजीएस 0.44, ऑटो 0.39 और वित्त समूह के शेयर 0.11 प्रतिशत चढ़े।

वहीं धातु 2.31, हेल्थकेयर 1.40, बेसिक मैटेरियल 1.10, एफएमसीजी 1.06, यूटिलिटीज 1.01 और पावर 1.01 प्रतिशत गिरे। इनके अलावा अन्य समूह के शेयर भी 0.79 प्रतिशत तक कमजोर रहे।

चीन की दूसरी सबसे बड़ी और सबसे ज्यादा कर्ज से लदी रियल एस्टेट कंपनी एवरग्रैनेड पर जल्द ही रेगुलेटरी कार्रवाई का आशंका है। आने वाले दिनों में यह किसी भी समय दिवालिया हो सकती है। इससे हताश निवेशकों की बिकवाली से विदेशी बाजार में गिरावट रही।

इस दौरान ब्रिटेन का एफटीएसई 0.38 प्रतिशत, जर्मनी का डैक्स 0.88, हांगकांग का हैंगसैंग 1.30 और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.80 प्रतिशत लुढ़के। हालांकि जापान का निक्केई 2.06 प्रतिशत की तेजी में रहा।

सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में ही 273.4 अंक की तेजी लेकर 60 हजार अंक के पार 60,158.76 अंक पर खुला और जबरदस्त लिवाली के दम पर 60,333 अंक के सर्वकालिक उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। हालांकि दोपहर बाद शुरू हुई बिकवाली के दबाव में यह 59,946.55 अंक के निचले स्तर पर भी रहा।

अंत में पिछले दिवस के 59,885.36 अंक के मुकाबले 0.27 बढ़कर 60,048.47 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया। निफ्टी 74.5 अंक बढ़कर 17,897.45 अंक पर खुला। सत्र के दौरान 17,947.65 अंक के उच्चतम और 17,819.40 अंक के न्यूनतम स्तर पर भी रहा। अंत में पिछले सत्र के 17,822.95 अंक की तुलना में 0.17 प्रतिशत मजबूत होकर 17,853.20 अंक पर रहा।

बीएसई में 13 कपनियों में तेजी और 17 में गिरावट रही। इस दौरान मुनाफा कमाने वाली कंपनियों में एशियन पेंट 3.72 प्रतिशत, महिंद्रा एंड महिंद्रा 2.74, एचसीएल टेक 2.24, एचडीएफसी बैंक 1.98, भारती एयरटेल 1.79, मारुति 1.59 और इंफोसिस 1.25 प्रतिशत शामिल रहीं।

इनके अलावा शेष अन्य कंपनियों के शेयर भी 0.74 प्रतिशत तक चढ़े। वहीं, गिरावट पर रहने वाली कंपनियों में टाटा स्टील 3.60, एसबीआई 2.00, एक्सिस बैंक 1.74, आईटीसी 1.67, हिंदुस्तान यूनीलीवर 1.44, एनटीपीसी 1.39, ओएनजीसी 1.31, बजाज फाइनेंस 1.30, अल्ट्रा सिमको 1.19 और पावर ग्रिड 1.12 प्रतिशत शामिल रहीं। इनके अलावा अन्य कंपनियों के शेयर भी 0.57 प्रतिशत तक गिरे।