मुंबई में बाढ जैसे हालात, यातायात प्रभावित, स्कूल-कालेजों में छुट्टी

Mumbai, traffic is badly affected by rain, leave in schools and colleges
Mumbai, traffic is badly affected by rain, leave in schools and colleges

मुंबई। देश की वाणिज्यिक नगरी मुंबई में मूसलाधार बारिश ने सोमवार को शहर में बाढ़ जैसे हालात पैदा कर दिए जिससे सड़क और रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ। बारिश के चलते स्कूल, काॅलेजों में अवकाश घोषित कर दिया गया है।

पिछले दो दिन से शहर में भारी बारिश ने कहर ढाया है और आशंका जताई गई है कि सोमवार को भी भारी बारिश होती रहेगी। भारी बारिश के चलते सोमवार को मुंबई के स्कूल, कालेजों में अवकाश घोषित कर दिया गया है।

भारी बारिश के चलते जगह-जगह सड़केें पानी से डूबी हुई हैं। रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ है। लोगों को अपने कामकाज पर पहुंचने में खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा है।

मौसम विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार को सुबह साढे आठ बजे तक के 24 घंटों के दौरान कोलाबा में 170.6 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई। दहाणु में सुबह साढे पांच बजे तक 308 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई।

मौसम विभाग का कहना है कि शाम को और मंगलवार को और बारिश की संभावना है। उपनगर के सांताक्रूज में पिछले 24 घंटे में 122 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है।

ठाणे, कुर्ला, अंधेरी, सायन, माटुंगा, धारावी, कल्याण, दादर, मलाड, जोगेश्वरी, विद्याविहार और भिवंडी की सड़कें जलमग्न हैं और यहां बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं। भारी बारिश को देखते हुए लोगों को घर में ही रहने की सलाह दी गई है।

बृहनमुंबई विद्युत आपूर्ति और परिवहन(बेस्ट) के बस परिचालन पर बुरा असर पड़ा है। बेस्ट प्रवक्ता के अनुसार बसें देरी से चल रही है लेकिन किसी सेवा को रद्द अथवा निलंबित नहीं किया गया है। वसई में एक रेल ओवरब्रिज को यातायात के लिए बंद किया गया है।

बारिश के कारण ट्रेनों के आवागमन पर असर पड़ा है। पश्चिम रेलवे के अनुसार नाला सोपारा में रेल पटरी पर भारी पानी का जमाव होने के कारण आवागमन बंद किया गया है। उप नगरी लाइंस पर रेल देरी से और धीमी गति से चल रही है। दादर, गोरेगांव और माटुंगा रोड के अलावा पानी में डूबी रेल पटरियों से पंपों के जरिये पानी निकाला जा रहा है जिससे परिचालन को ठीक किया जा सके।

मध्य रेलवे के तहत चलने वाली ट्रेनों की गति धीमी है किंतु किसी सेवा को रद्द नहीं किया गया है। तीनों लाइनों पर रेल सेवा जारी है। कालवा और ठाणे के बीच ऐहतियात के तौर पर ट्रेनों की गति धीमी है।

दृश्यता बहुत अच्छी नहीं होने के बावजूद मुंबई हवाई अड्डे पर विमानों की आवाजाही पर असर नहीं पड़ा है। ठाणे रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म तक पानी का जमाव है। कुर्ला में तीन मंजिली इमारत का एक हिस्सा गिर गया। इस हादसे में किसी के घायल होने की खबर नहीं है।