गृहमंत्री राजनाथ सिंह की और से अजमेर दरगाह में चादर पेश

अजमेर। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की ओर से बुधवार को अजमेर में सूफी संत ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह के आस्ताना शरीफ पर सुनहरे व चांदी के कार्य की नीली लाल बॉर्डर वाली मखमली चादर व अकीदत के फूल पेश किए गए।

गृहमंत्री ने यह चादर दिल्ली में राज्य अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य मुन्नवर खान को सौंपी थी जिसे वे दरगाह शरीफ आयोग के अध्यक्ष जसबीर सिंह के साथ लेकर अजमेर पहुंचे।

चादर पेश करने के बाद मुन्नवर खान ने बुलंद दरवाजे पर गृहमंत्री का संदेश पढ़कर सुनाया जिसमें गृहमंत्री ने कहा कि ख्वाजा साहब ने दुनिया को आपसी भेदभाव भुलाकर सौहार्दपूर्ण जीवन जीने का संदेश दिया। उर्स में सभी धर्म व संप्रदाय के लोग देश विदेश से श्रद्धा भाव के साथ शामिल होने आते है।

उन्होंने 806वें सालाना उर्स के मौके पर सभी देशवासियों को शुभकामनाएं दी। इसके बाद राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जसबीर सिंह ने कहा कि ख्वाजा साहब की शिक्षाएं आज भी प्रासंगिक है। हमने आज ये ही दुआ की है कि देश में कौमी एकता व तरक्की में सभी हिस्सेदार बने। जसबीर सिंह ने अपनी ओर से भी ख्वाजा गरीब नवाज के उर्स पर सभी को मुबारकबाद दी।

इस मौके पर भाजपा से जुड़े खादिम अब्दुल बारी चिश्ती भी उपस्थित रहे। खादिम मुन्नवर चिश्ती नियाजी ने गृहमंत्री की चादर पेश कराई।सभी की दस्तारबंदी कर तवर्रूक भेंट किया।