अजमेर में नगर निगम ने पांच संस्थान किए सीज

Municipal Corporation ajmer
Municipal Corporation ajmer

अजमेर। राजस्थान के अजमेर नगर निगम ने सोमवार को शहर में गलत तरीके से संचालन करने पर पांच संस्थानों को सीज कर दिया।

निगम आयुक्त हिमांशु गुप्ता ने बताया कि इस कार्यवाही में डिग्गी बाजार स्थित डायमंड होटल, चंद्रवरदाई नगर स्थित कुरकुरे निर्माण की एक कंपनी सहित पुरानी मंडी क्षेत्र की छह दुकानें शामिल है। इसके अलावा आनंद नगर कैलाशपुरी स्थित प्लाईवुड का गोदाम भी है जिन्हें सीज किया गया।

गुप्ता ने बताया कि यह सभी आवासीय नक्शों की आड़ में व्यवसायिक निर्माण कर गलत तरीके से संस्थानों का संचालन कर रहे थे। अनेकों बार नोटिस देने के बावजूद संबंधित पक्षकारों ने अपने हक में किसी तरह के कोई दस्तावेज पेश नहीं किए। इसके बाद निगम ने राजस्व अधिकारी पवन मीणा की अगुवाई में इस कार्यवाही को अंजाम दिया गया।

उधर, पुरानी मंडी में सीज की गई दुकानों के विरोध में दुकानदारों ने निगम के खिलाफ अपने प्रतिष्ठान बंद रख विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान बड़ी संख्या में दुकानदार निगम पहुंचे और निगम के खिलाफ अपना गुस्सा जाहिर किया।

इन लोगों का आरोप है कि निगम शहर के प्रभावशाली व्यक्तियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं करता है और सीज की कार्यवाही करता भी है तो चार छह दिनों में ही जयपुर से संस्थान को सीज मुक्त करा लिया जाता है। यह दोहरे मापदंड निगम की कार्यशैली पर बड़ा प्रश्न चिह्न लगाता है।