मुरादनगर श्मशान घाट हादसे का मुख्य आरोपी फरार ठेकेदार अरेस्ट

Verified Apps to watch T20 World Cup 2022 Live Stream

गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश में गाजियाबाद जिले के मुरादनगर श्मशान घाट हादसे के जिम्‍मेदार मुख्य आरोपी इनामी ठेकेदार अजय त्यागी को गिरफ्तार कर लिया जबकि तीन आरोपी पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने बताया कि तीन जनवरी को मुरादाबाद श्मशान घाट गैलरी की छत गिरने के मामले फरार चल रहे इनामी ठेकेदार अजय त्यागी को बीती देर रात गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में पुलिस सभी चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों पर रासुका लगाई जा रही है।

उन्होंने बताया कि घटना के मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी पर कल उनकी तरफ से 25 हजार रुपए का इनाम घोषित किया गया था। उन्होंने बताया कि पुलिस फिलहाल उससे पूछताछ चल रही है और उसके बाद आज ही उसे अदालत में पेश किया जा सकता है।

इस मामले में पुलिस ने मुरादनगर नगर पालिका की अधिशासी अधिकारी निहारिका सिंह, अवर अभियंता चंद्रपाल और सुपरवाइजर आशीष और ठेकेदार अजय कुमार त्यागी के खिलाफ रविवार शाम गैर इरादतन हत्या, भ्रष्टाचार लापरवाही समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था।

मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रूपए की मदद

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुरादनगर में छत गिरने से मारे गए लोगों के परिजनों को दस लाख रूपए की आर्थिक मदद और आवासहीन प्रभावित परिवार को आवास दिए जाने की घोषणा की है।

आधिकारिक प्रवक्ता ने मंगलवार को बताया कि योगी ने मुरादनगर की दुर्घटना के प्रत्येक मृतक के आश्रितों को 10 लाख रुपए की आर्थिक मदद प्रदान किए जाने की घोषणा की है। उन्होंने प्रत्येक आवासहीन प्रभावित परिवार को एक आवास उपलब्ध कराए जाने की भी घोषणा की है।

मुख्यमंत्री ने निर्माण कार्य से सरकारी धन के हुए नुकसान की भरपाई सम्बंधित ठेकेदार तथा अभियंताओं से करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने इस हादसे के अभियुक्तों के विरुद्ध राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत भी कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए हैं।

गौरतलब है कि रविवार को तेज बारिश के बीच मुरादनगर में बंबामार्ग पर स्थित श्मशान घाट परिसर की छत और दीवार गिर गयी। घटना के समय श्मशान घाट पर अंत्येष्टि हो रही थी और इस दौरान वहां एकत्र 40 से अधिक लोग मलबे में दब गये। हादसे में 25 लोगों की मौत हो गई जबकि कई अन्य घायल हो गए।