म्यांमार सरकार ने दी लोकतंत्र समर्थक दो कार्यकर्ताओं को फांसी

Verified Apps to watch T20 World Cup 2022 Live Stream

नेपिडॉ। म्यांमार में दशकों बाद पहली बार लोकतंत्र समर्थक दो कार्यकर्ताओं सहित चार लोगों को फांसी दी गई है। क्योडो न्यूज ने स्थानीय मीडिया के हवाले से कहा कि 1976 के बाद से म्यांमार में राजनीतिक कैदियों को फांसी नहीं दी गई है और आखिरी बार 1990 में मौत की सजा दी गई थी।

न्यूज एजेंसी ने बताया कि जिन चार लोगों को फांसी दी गई उनमें दो राजनीतिक कैदी भी शामिल हैं। राजनेता आंग सान सू की की नेशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी पार्टी के पूर्व सांसद फ्यो ज़ेयर थाव और लोकतंत्र समर्थक एक प्रमुख कार्यकर्ता क्याव मिन यू को फांसी दी गई है।

सैन्य न्यायाधिकरणों ने हत्या सहित आतंकवादी कृत्यों में शामिल होने पर जनवरी में दोनों को मौत की सजा सुनाई थी। अन्य दो पर एक महिला की हत्या करने का आरोप लगाया गया था जो एक कथित सैन्य मुखबिर थी।

क्योडो न्यूज ने बताया कि संयुक्त राष्ट्र, यूरोपीय देशों और अमेरिका के साथ-साथ क्षेत्रीय नेताओं, जिनमें कंबोडियाई प्रधानमंत्री हुन सेन भी शामिल हैं ने सैन्य सरकार (जुंटा) को फांसी नहीं देने का आह्वान किया था।