जयपुर ग्रेटर मेयर के निलंबन मामले में अजमेर में BJP पार्षदों का प्रदर्शन

अजमेर। राजस्थान के अजमेर में जयपुर ग्रेटर नगर निगम महापौर सौम्या गुर्जर निलंबन मामले में राज्य की कांग्रेस सरकार के खिलाफ आज यहां फिर धरना-प्रदर्शन किया गया।

अजमेर नगर निगम महापौर बृजलता हाडा के नेतृत्व में भाजपा पार्षदों ने निगम पर एकत्रित होकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए धरना प्रदर्शन किया और गुर्जर का निलंबन वापस लिए जाने की मांग की।

महापौर हाडा ने कहा कि सरकार की ऐसी क्या मजबूरी थी कि आधी रात को ही नियम कायदों को एक तरफ रखते हुए निलंबित कर दिया। यह एक महिला के साथ जनादेश का भी अपमान है। सरकार ने निलंबन प्रक्रिया नहीं अपनाई और एकतरफा कार्यवाही करते हुए निलंबित कर दिया। उन्होंने कहा कि इससे न केवल भाजपा में बल्कि महिलाओं में भी व्यापक रोष है।

भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष व पार्षद भारती श्रीवास्तव ने भी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि सरकार से यह कदम निंदनीय है। महापौर का निलंबन यह दर्शाता है कि सरकार ने किसी दबाव में फैसला लिया है। उन्होंने सवाल किया कि सरकार में क्या बौखलाहट रही कि मध्य रात्रि में निलंबन के आदेश जारी किए गए।

उल्लेखनीय है कि राज्य की कांग्रेस सरकार ने जयपुर ग्रेटर निगम आयुक्त के साथ अभद्रता के मामले में मेयर सौम्या गुर्जर व तीन पार्षदों को निलंबित कर दिया था।