गहलोत के राज में मर्यादा की सारी सीमाएं लांघी : नीरज जैन

अजमेर। राजस्थान में अजमेर नगर निगम के उपमहापौर नीरज जैन ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के राज में सारी सीमाएं लांघी जा रही है।

जैन ने एक बयान में कहा कि देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद पर लोकतांत्रिक तरीके से बैठे प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और राज्य के राज्यपाल के बारे में आज विधायक गणेश घोगरा ने सारी मर्यादाओं को लांघते हुए जिस अमर्यादित भाषा का प्रयोग किया है वह पूरी तरह निंदनीय और उनके मानसिक चरित्र का ध्योतक है।

उन्होंने कहा कि घोगरा मुख्यमंत्री गहलोत के प्रिय एवं युवक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भी है। ऐसे में उनके द्वारा इन विशिष्ट व्यक्तित्व के खिलाफ मर्यादा की सारी सीमाएं लांघकर बोलना दुखद है।

उन्होंने मांग की कि गणेश घोगरा को तत्काल प्रभाव से संगठन से निष्कासित कर उनके खिलाफ की गई अमर्यादित टिप्पणी को लेकर मुकदमा दर्ज किया जाए और पूरे प्रकरण की जांच की जाए।

मर्यादा की सारी सीमाएं लांघ रहे कांग्रेसी : मीणा

राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जनजाति मोर्चा ने युवक कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष गणेश घोघरा द्वारा संवैधानिक पद पर लोकतांत्रिक तरीके से बैठे प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और प्रदेश के राज्यपाल के बारे में अभद्र टिप्पणी करने की कडी निंदा की है।

भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष जितेन्द्र मीणा ने आज एक बयान में कहा कि श्री घोघरा की भाषा से कांग्रेस पार्टी एवं इसके मानसिक चरित्र का पता चलता है। उन्होंने कहा कि मोर्चा घोघरा विधानसभा सदस्यता से इसके निष्कासन की मांग करता है।

उन्होंने कहा कि घोघरा का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी यह व्यक्ति अनुसूचित जनजाति वर्ग सहित हिन्दू धर्म की धार्मिक आस्थाओं को ठेस पहुंचा चुका है।