जयपुर में मुख्यमंत्री निवास के बाहर सुसाइड का प्रयास, पढें क्या है पूरा मामला

जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर में मुख्यमंत्री निवास के समीप पुलिस एवं बजरी माफिया से प्रताड़ना की पीड़ा किसी ने नहीं सुनने से दुखी एक व्यक्ति के कीटनाशक पदार्थ पीकर आत्महत्या का प्रयास करने का मामला सामने आया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार यह व्यक्ति नागौर जिले में रिया बाड़ी कस्बा निवासी चेना राम माली है। वह मुख्यमंत्री के नाम पुलिस और बजरी माफिया से प्रताड़ना की पीड़ा का ज्ञापन लेकर जयपुर आया था और सुबह करीब दस बजे सिविल लाइंस स्थित मुख्यमंत्री आवास के समीप पहुंचते ही उसने बोतल में भरे कीटनाशक पदार्थ पी लिया। इस दौरान वहां तैनात पुलिसकर्मियों ने देख लिया और उसे एमएमएस अस्पताल पहुंचाया।

चेनाराम के पास मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन मिला है। जिसमें लिखा है कि 18 मई को बजरी खनन माफिया से जुड़े बदमाशों ने उस पर जानलेवा हमला किया। इस संबंध में उसने पादूकलां थाने में मुकदमा दर्ज कराया। इसके बाद मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने के लिए फिर बदमाशों ने 22 मई को उसके साथ मारपीट की।

जब वह इसकी रिपोर्ट लिखाने थाने पहुंचातो तो थानाप्रभारी ने उसकी रिपोर्ट नहीं लिखी। इसके बाद चेनाराम ने इसकी शिकायत अजमेर रेंज पुलिस उपमहानरीक्षक, नागौर पुलिस उपाधीक्षक, नागौर कलेक्टर, एसडीएम रियाबाड़ी तथा अन्य अधिकारियों को भेजी। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।