मोदी ने किया कर्नाटक से कांग्रेस को उखाड़ फेंकने का आह्वान

Narendra Modi addresses BJP Parivartan Yatra at Palace Grounds in Bengaluru

बेंगलुरु। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कर्नाटक में चुनाव को बिगुल बजाते हुए लोगों से भ्रष्ट और वंशवादी कांग्रेस को प्रदेश की सत्ता से बेदखल करने का आह्वान किया। प्रदेश में अप्रैल के अंत या मई की शुरुआत में विधानसभा चुनाव हो सकता है।

मोदी ने यहां एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैं कर्नाटक के लोगों से कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने की अपील करता हूं। प्रदेश की सत्ता से कांग्रेस को बेदखल करने की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है।

भारतीय जनता पार्टी की ओर से बेंगलुरु के पैलेस ग्राउंड में कड़ी सुरक्षा के बीच आयोजित एक रैली में एक लाख से ज्यादा लोग मोदी का भाषण सुनने पहुंचे थे। करीब एक घंटा हिंदी में दिए अपने भाषण में मोदी ने कांग्रेस पर ताबड़तोड़ हमले किए और कहा कि देश में इसकी संस्कृति की अब कोई जरूरत नहीं है।

मोदी ने कहा कि भारत को अब कांग्रेस की संस्कृति की जरूरत नहीं है। इसने राष्ट्र को बर्बाद कर दिया है। अगर कांग्रेस का सफाया करना है तो प्रदेश को कांग्रेसमुक्त करना होगा।

प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह पार्टी भाजपा के विकास के देश का विकास करने के लक्ष्य की राह में रोड़े अटका रही है।

मोदी ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सिद्धारमैया के नेतृत्व वाली सरकार केंद्र की ओर विगत चार साल में दिए पैसे का सदुपयोग करने में विफल रही है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने स्वच्छ भारत मिशन के मद में कर्नाटक को 247 करोड़ रुपए दिए जिसमें से 70 करोड़ रुपए का अब तक उपयोग नहीं हो पाया है।

प्रदेश सरकार में बिल्डर माफिया, सैंड माफिया (रेत का अवैध कारोबार करने वाले) और अन्य भ्रष्ट कारोबार फल-फूल रहा है।

मोदी ने कहा कि प्रदेश में अनेक हिंदू कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई है जो लोकतंत्र के लिए खतरा है। उन्होंने अपनी बात दोहराते हुए कहा कि कर्नाटक की जनता आगामी चुनाव में ही इसका जवाब दे सकती है।

उन्होंने कहा कि भाजपा किसानों के जीवनस्तर में सुधार और बेहतर बुनियादी ढांचा का निर्माण करके कर्नाटक को नई ऊंचाई तक ले जा सकती है।

मोदी ने कहा कि कर्नाटक में अभी भी सात लाख घरों में अंधेरा छाया हुआ है। आजादी के इतने साल बाद भी वहां बिजली नहीं पहुंच पाई है। बिजली से उनके घरों में उजियाला आएगा।

उन्होंने बताया कि आम बजट में बेंगलुरु के लिए उपनगरीय ट्रेन नेटवर्क की घोषणा की गई है जिससे 15 लाख यात्रियों को लाभ मिलेगा।

प्रधानमंत्री एक दिन के दौरे पर बेंगलुरु पहुंचे थे जहां उन्होंने भाजपा की ओर से कर्नाटक के सभी जिलों में आयोजित 90 दिनों की रैली के समापन पर एक जनसभा को संबोधित किया।

पार्टी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दो नवंबर को प्रदेश में नव कर्नाटक निर्माण परिवर्तन यात्रा का शुभारंभ किया था। यह यात्रा प्रदेश के सभी 224 विधानसभा क्षेत्रों से होकर गुजरी।

इस रैली का मकसद दक्षिण भारतीय राज्य कर्नाटक में विकास के जरिए बदलाव लाने के सहारे भाजपा की सत्ता में वापसी है। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा और पार्टी के अन्य नेताओं की अगुवाई में यह यात्रा निकाली गई थी।

कर्नाटक में भाजपा के चुनाव अभियान प्रभारी केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और पीयूष गोयल समेत प्रदेश से आने वाले अनंत कुमार, डीवी सदानंद गौड़ा और अनंत हेगड़े भी रैली में मौजूद थे।