मोदी सर्वाधिक दिन सत्ता संभालने वाले पहले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री बने

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को सबसे अधिक दिन देश की सत्ता संभालने वाले पहले गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री बनने का गौरव हासिल किया। पहले यह उपलब्धि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के संस्थापक अटल बिहारी वाजपेयी के नाम थी।

वाजपेयी तीन बार देश के प्रधानमंत्री बने और कुल मिलाकर इस पद पर 2,268 दिन रहे। वाजपेयी पहली बार 1996 में प्रधानमंत्री बने और मात्र 13 दिन इस पद पर रहे। इसके बाद 1998 में प्रधानमंत्री बने और 13 माह तक सत्ता संभाली। तीसरी बार 1999 में बने और 2004 तक देश के प्रधानमंत्री रहे। वाजपेयी को देश का पहला गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री होने का श्रेय है जिन्होंने अपना कार्यकाल पूरा किया।

भाजपा ने 2014 का आम चुनाव मोदी की अगुवाई में लड़ा और पहली बार अपने बूते पर लोकसभा में बहुमत का आंकड़ा 273 सीटें हासिल की। तीन दशकों में पहली बार किसी दल ने अपने बूते बहुमत हासिल किया था। चुनाव राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के तौर पर लड़ा गया और चुनाव बाद मोदी की अगुआई में 26 मई 2014 को केंद्र में राजग की सरकार बनी।

वर्ष 2019 में राजग ने फिर मोदी के नेतृत्व में चुनाव लड़ा और पहले से अधिक प्रचंड बहुमत हासिल किया। राजग को कुल 343 और भाजपा ने इसमें अकेले 303 सीटों पर परचम लहराया। मोदी इस बार लगातार सातवीं बार स्वतन्त्रता दिवस पर लालकिले की प्राचीर से झंडा फहराएंगें।

वैसे देश में प्रधानमंत्री के पद पर सबसे लंबे समय तक रहने का रिकार्ड पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के नाम दर्ज है। नेहरु 16 वर्ष 286 दिनों तक देश के प्रधानमंत्री रहे। दूसरे नंबर उनकी पुत्री इंदिरा गांधी का है जो 15 वर्ष 350 दिनों इस पद पर रहीं। तीसरे स्थान पर डा. मनमोहन सिंह हैं।

गुलजारी लाल नंदा ने सबसे कम सिर्फ 13 दिन यह पद संभाला। लाल बहादुर शास्त्री के निधन के बाद वह 11 जनवरी 1966 से 24 जनवरी 1966 तक 13 दिनों के लिए कार्यवाहक प्रधानमंत्री रहे। इससे पहले जवाहर लाल नेहरू की मृत्यु के उपरांत भी स्व. नंदा 27 मई 1964 से नौ जून 1964 तक कार्यवाहक प्रधानमंत्री रहे थे।