नसीराबाद : नांदला गांव में दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान डूबने से 6 की मौत

नसीराबाद। समीपवर्ती नांदला गांव में बुधवार को दुर्गा प्रतिमा विर्सजन के दौरान बडा हादसा हो गया। प्रतिमा विसर्जन के दौरान 6 युवक गहरे पानी में चले गए और एक दूसरे की जान बचाने के प्रयास में डूब गए। मशक्कत के बाद ग्रामीणों ने सभी के शव निकाल लिए। एक साथ 6 किशोरों की मौत से गांव में कोहराम मचा हुआ है। मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

नांदला सरपंच मानसिंह रावत ने बताया कि यह हादसा अपराहन करीब साढे तीन बजे हुआ। नवरात्र के दौरान नंदा जी की ढाणी के गरबा पांडाल में स्थापित दुर्गा प्रतिमा का विसर्जन करने ग्रामीण महिलाएं, पुरुष व बच्चे सामूहिक रूप से पहुंचे थे। प्रतिमा विसर्जन के दौरान एक युवक का पैर फिसला और वह गहरे पानी में चला गया। उसे बचाने की कोशिश में एक के बाद किशोर पानी में ही डूब गए। हादसे की सूचना मिलते ही आस पास के ग्रामीण मौके पर पहुंचे तथा गहरे पानी में तलाश शुरू की। इस बीच पुलिस भी आ गई। कडी मशक्कत के बाद देर शाम तक सभी छह शव निकाल लिए गए। मौके पर पहुंचे

हादसे की सूचना पर कलेक्टर अंशदीप, पुलिस अधीक्षक चूनाराम जाट, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक घनश्याम शर्मा, उपखंड अधिकारी राकेश गुप्ता, पूर्व विधायक महेंद्र सिंह गुर्जर, पूर्व विधायक रामनारायण गुर्जर मौके पर पहुंचे और राहत कार्य में आवश्यक दिशानिर्देश दिए।

प्रशासन की ओर से मृतकों को आर्थिक मुआवजे की घोषणा कर दी गई है। ग्रामीणों में रोष है। इस बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तथा भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया ने हादसे की सूचना के बाद ट्वीट कर अपनी संवेदनाएं एवं गहरा दुख व्यक्त किया है।

मृतकों के नाम

गजेन्द्र पुत्र बाबूलाल रेगर, नसीराबाद उम्र 28 वर्ष, राहुल पुत्र केलाश रेगर, नन्दा जी ढाणी उम्र 20 वर्ष, लक्की पुत्र शंकर लाल बैरवा, नन्दा जी की ढाणी उम्र 21 वर्ष, राहुल पुत्र छीतर लाल मैघवाल, नन्दा जी की ढाणी उम्र 24 वर्ष, पवन कुमार पुत्र मोहन लाल रेगर, नन्दा जी की ढाणी उम्र 35 वर्ष, शंकर लाल पुत्र बाबूलाल रेगर उम्र 27 वर्ष की मौत हो गई।