मोदी सरकार पेट्रोल-डीजल की रिकॉर्ड दरों के लिए याद रखी जाएगी : अशोक गहलोत

Nation will remember Modi for record high fuel prices : Ashok Gehlot

जयपुर। राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव अशोक गहलोत ने दिन-प्रतिदिन पेट्रोल और डीजल की दरों में की जा रही वृद्धि की आलोचना करते हुए कहा है कि मोदी सरकार महंगे पेट्रोल एवं डीजल के लिए याद रखी जाएगी।

गहलोत ने सोमवार को एक बयान में कहा कि पेट्रोल एवं डीजल की कीमतें बढ़ने से स्वाभाविक रूप में महंगाई बढ़ती है और आवश्यक वस्तुओं के दाम बढ़ने का सीधा असर आम नागरिक झेलने को मजबूर हैं।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के समय पेट्रोल एवं डीजल की दरों को लेकर उसे कोसते नहीं थकते थे जब अन्तरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल के भाव आसमान को छू रहे थे। आज जब क्रूड ऑयल की दरें अन्तरराष्ट्रीय बाजार में अपेक्षाकृत काफी कम है, इसके बावजूद देश में पेट्रोल-डीजल की दरों ने अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं।

उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के समय दाम बढ़ने पर महंगाई कम करने के लिए राजस्थान में पेट्रोल-डीजल पर वैट की दर में कमी तथा रसोई गैस पर सब्सिडी देकर आम जन को राहत प्रदान की थी।

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार पहले ही पेट्रोल एवं डीजल पर एक्साईज ड्यूटी कम नहीं करने का फैसला कर चुकी है वहीं भाजपा शासित राजस्थान सहित अन्य राज्य सरकारों ने आमजन को राहत प्रदान करने के लिए कोई कदम नहीं उठाया है।

उन्होंने कहा कि देश ही नहीं प्रदेश की जनता भी महंगाई कम करने का वादा कर सत्ता में आई केन्द्र एवं राजस्थान सरकार के इन वादों को भी अब जुमलों के रूप में देखने लगी है।

सांसद रघु शर्मा के रूप में अजमेर कांग्रेस को मिल गया असली हीरो!