पुलिस के काम करने का तरीके में बदलाव जरूरी-लक्ष्मीकांता चावला

पुलिस के काम करने का तरीके में बदलाव जरूरी-लक्ष्मीकांता चावला
पुलिस के काम करने का तरीके में बदलाव जरूरी-लक्ष्मीकांता चावला

अमृतसर । भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की वरिष्ठ नेता और पंजाब की पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांता चावला ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से पुलिस के काम करने के तरीके में बदलाव लाने का अनुरोध किया है।

श्रीमती चावला ने श्री सिंह को लिखे पत्र में कहा है कि पुलिस का मतलब केवल पिटाई नहीं है। उसका काम अपराध रोकना और अपराधियों को दंडित करना है। जिस तरह देश में पुलिस डंडे के बल पर अपराध स्वीकार कराती है निर्दोषों को भी अपराधी बना देती है उससे भविष्य के लिए बहुत बड़ा खतरा दिखाई देता है।

उन्होंने जम्मू के कठुआ मामले का उल्लेख करते हुये कहा कि जिस तरह से मुज्जफरनगर से चार विद्यार्थियों को वहां लाकर पीटा गया वह पुलिस के डंडा तंत्र की मुंह बोलती कहानी है। देश के अनेक भागों से आए दिन पुलिस की क्रूरता की अनेक घटनाएं मीडिया में दिखाई जाती हैं।

भाजपा नेता ने कहा कि देश आजाद हो गया लेकिन पुलिस के क्रूर तंत्र में जनता अभी भी गुलाम है। उन्हाेंने केंद्रीय गृह मंत्री से पुलिस की काम करने की संस्कृति बदलने तथा उसे जनता की मित्र बनाने का अनुरोध किया।