नशे के दुष्प्रभाव के प्रति लोगों को जागरूक करने की जरूरत

नशे के दुष्प्रभाव के प्रति लोगों को जागरूक करने की जरूरत
नशे के दुष्प्रभाव के प्रति लोगों को जागरूक करने की जरूरत

जयपुर । सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता निदेशक डॉ0 समित शर्मा ने विभिन्न तरह के नशे से होने वाले दुष्प्रभाव के प्रति लोगों को जागरूक करने की जरूरत पर बल दिया।

डॉ0 शर्मा ने आज यहां अर्न्तराष्ट्रीय नशामुक्ति दिवस पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग एवं नव विकल्प संस्था के सहयोग से जनजागरण हेतु प्रचार वैन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करते हुए कहा कि प्रदेश में छात्रावासों, आवासीय विद्यालयों, होम, नारी निकेतनाें आदि को नशा मुक्त क्षेत्र घोषित कर दिया गया है।

उन्होने कहा कि नशा करना एक बीमारी होती है, इससे छुटकारा दिलाने के लिये सजग रहकर प्रयास करना चाहिए। नव विकल्प संस्थान के अध्यक्ष हरीश भूटानी ने बताया कि यह वैन जयपुर शहर में दो दिनों तक मुख्य स्थानों पर युवा पीढी एवं नशे से पीडित लोगों को नशे से छुटकारा दिलाने के प्रति जागरूक करने के साथ ही इसके सेवन से परिवार एवं समाज पर पड़ने वाले बुरे असर की जानकारी देगी।