अजमेर : शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र चन्द्रवरदायी नगर का लोकार्पण

अजमेर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री काली चरण सराफ के द्वारा चन्द्रवरायी नगर में शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के लोकार्पण के अवसर पर स्वास्थ्य केन्द्र का नामकरण सम्राट पृथ्वीराज चौहान के नाम पर करने की घोषणा की।

सराफ ने कहा कि सम्राट पृथ्वीराज चौहान की जयन्ती पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का लोकार्पण होना गौरव का विषय है। स्थानीय नागरिकों एवं जनप्रतिनिधियों के द्वारा केन्द्र का नामकरण सम्राट पृथ्वीराज चौहान के नाम पर करने की मांग की गई। इसे अब सम्राट पृथ्वीराज चौहान शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र चन्द्रवरदायी नगर के नाम से जाना जाएगा।

उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के द्वारा गांव के साथ -साथ शहरों में भी स्वास्थ्य केन्द्र बनाए जाने का अभूतपूर्व कार्य किया गया है। इसके अन्तर्गत 61 शहरों में 13 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं 140 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र स्वीकृत किए थे। अजमेर में यह स्वास्थ्य केन्द्र निर्धारित समयावधि से एक माह पहले बनकर तैयार हो गया, यह रिकार्ड है। आगामी एक माह में समस्त स्वीकृत केन्द्र आरम्भ करने के लिए सरकार संकल्पबद्ध है।

उन्होंने कहा कि चिकित्सालय में स्टाफ की कोई कमी नहीं रहेगी। समस्त स्वीकृत पद अगले एक माह में भर दिए जाएंगे। आजादी के बाद राज्य में सात मेडिकल कॉलेज खोले गए थे। वर्तमान सरकार ने चार वर्ष में 8 नए मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा की थी। इनमें से 5 कॉलेज आगामी एक जुलाई से आरम्भ हो जाएंगे।

उन्होंने कहा कि सरकार की फ्लेगशिप योजना भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना प्रदेश की दो तिहाई आबादी को लाभ पहुंचा रही है। इससे स्वस्थ राजस्थान विकसित राजस्थान का सपना सच होगा।

महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिता भदेल ने कहा कि यह स्वास्थ्य केन्द्र 5 हजार वर्ग गज भूमि पर बना है। इस पर लगभग 5 करोड़ रूपए व्यय किए गए। इसके आरम्भ होने से आसपास की बड़ी आबादी को राहत मिलेगी। मेडिसन एवं गायनिक वार्ड के साथ विशेषज्ञ सेवाएं मिलने से नागरिकों को लाभ होगा।

उन्होंने कहा कि इस केन्द्र से संस्थागत प्रसव को बढ़ावा मिलेगा। मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी आएगी। अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध होने से मरीजों को लाभ मिलेगा। भविष्य में सुविधाओं को और अधिक विस्तार करने के लिए प्रयास किए जाएंगे।

पूर्व सांसद रासा सिंह रावत ने कहा कि निःशुल्क जांच एवं दवाओं से गरीब एवं पिछड़े वर्ग को लाभ मिलेगा। एक ही छत के नीचे एलोपेथिक, आयुर्वेदिक एवं होम्योपेथिक चिकित्सा की सुविधाएं उपलब्ध होने से सभी मरीजों का लाभ होगा।

नगर निगम के उप महापौर संपत सांखला ने कहा कि लोकार्पण के अवसर पर रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। इसमें 40 यूनिट रक्त रक्तदाताओं द्वारा अस्पताल को उपलब्ध करवाया गया। भौतिक सुविधाओं में वृद्धि के लिए भामाशाह आगे आए हैं। रामगंज के राम स्वरूप शर्मा ने अपने माता पिता की याद में अस्पताल को वाटर कूलर भेंट करने की घोषणा की।

राजस्थान धरोहर संरक्षण एवं प्रोन्नति प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री औकार सिंह लखावत ने केन्द्र का नाम सम्राट पृथ्वीराज चौहान पर रखने के लिए चिकित्सा मंत्री का आभार जताया।

इस अवसर पर पूर्व विधायक हरीश झामनानी, यूआईटी के पूर्व अध्यक्ष धर्मेश जैन, नगर निगम के पूर्व सभापति सुरेन्द्र सिंह शेखावत, अरविंद यादव, कंवल प्रकाश किशनानी, सीमा गोस्वामी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. केके सोनी, आरसीएचओ डॉ. रामलाल चौधरी, सहायक अभियंता अशोक कुमार तंवर सहित गणमान्य नागरिक एवं पार्षद उपस्थित थे।