न्यूजीलैंड की भारत को चार विकेट से हराकर सीरीज पर सीरीज में 2-0 से अपराजेय बढ़त

New Zealand beat India by four wickets, series 2-0 in an unbeatable 2-1 lead
New Zealand beat India by four wickets, series 2-0 in an unbeatable 2-1 lead

ऑकलैंड । न्यूजीलैंड ने ट्वंटी-20 सीरीज के दूसरे मुकाबले में भारतीय महिला टीम को चार विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 2-0 से अपराजेय बढ़त बना ली है।

शुक्रवार को ऑकलैंड के ईडन पार्क मैदान में खेले गए दूसरे ट्वंटी-20 मैच में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में छह विकेट के नुकसान पर 135 रन बनाए।

भारत की तरफ से ओपनर स्मृति मंधाना ने 36 और जेमिमा रॉड्रिग्स ने 72 रन बनाए। दोनों ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए भारतीय पारी को अच्छी शुरुआत दिलाई। लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान न्यूजीलैंड की टीम ने 20 ओवरों में छह विकेट खोकर 136 रन बना लिए। न्यूजीलैंड की सलामी बल्लेबाज सूजी बेट्स की जोरदार 62 रनों की पारी की बदौलत न्यूजीलैंड ने भारत को इस मुकाबले में हरा दिया।

दूसरे मुकाबले में मेजबान न्यूजीलैंड की टीम ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया। पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय महिला टीम ने दूसरे ही ओवर में सलामी बल्लेबाज प्रिया पुनिया का विकेट खो दिया। पुनिया ने 10 गेंदों में चार रन बनाए और सोफी डिवाइन की गेंद पर एमी सैटर्थवेट को कैच थमा बैठीं।

शुरुआती झटके के बाद भारतीय पारी को स्मृति मंधाना और जेमिमा रॉड्रिग्स ने संभाला। मंधाना ने 27 गेंदों में तीन चौके और एक छक्के की मदद से 36 रन जबकि रॉड्रिग्स ने 53 गेंदों में छह चौकों और एक छक्के की मदद से 72 रन बनाए।

दोनों की बेहतरीन पारी के बीच मैच के 9वें ओवर में रोजमैरी मायेर ने मंधाना को बेट्स के हाथोें कैच कराकर उनकी शानदार पारी का अंत कर दिया। मंधाना के आउट होने के बाद रॉड्रिग्स भी एमेलिया केर की गेंद पर केटी मार्टिन को कैच थमा बैठीं। दोनों के आउट होने के बाद पहले मैच की तरह दूसरे मुकाबले में भी भारतीय टीम लड़खड़ा गयी और बाकी बल्लेबाज कोई प्रतिरोध नहीं कर सकीं।

कप्तान हरमनप्रीत कौर फिर एक बार अपना जलवा दिखाने में नाकामयाब रहीं और लेग कैस्पेरेक की गेंद पर सैटर्थवेट को कैच थमा बैठीं। उन्होंने अपनी पारी में पांच गेंदों में एक चौके की मदद से पांच रन बनाए। उनके अलावा दीप्ति शर्मा आथ गेंदों में छह रन, अरुंधति रेड्डी छह गेंदों में तीन रन बनाकर आउट हो गईं। इसके अलावा दयालन हेमलता पांच गेंदों में दो रन के स्कोर पर रिटायर्ड हर्ट हो गईं और आगे बल्लेबाजी नहीं कर पायीं। वहीं राधा यादव छह गेंदों में छह रन बनाकर नाबाद रहीं।

न्यूजीलैंड की ओर से मायेर ने किफायती गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 17 रन देकर दो विकेट, कैस्पेरेक ने तीन ओवरों में 20 रन देकर एक विकेट, डिवाइन ने दो ओवर में 16 रन देकर एक विकेट और एमेलिया केर ने चार ओवरों में 31 रन देकर एक विकेट लिए। इनके अलावा ली ताहुहु और ऐना पिटर्सन को कोई विकेट नहीं मिल सका।

भारत की ओर से दिए गए 136 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान न्यूजीलैंड की टीम ने सधी हुई पारी खेली। लेकिन मैच के चौथे ओवर में ही भारत को सोफी डिवाइन के रुप में पहला विकेट मिला जिन्हें राधा यादव ने बोल्ड कर पवेलियन भेज दिया। डिवाइन ने अपनी पारी मेें 16 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 19 रन बनाए।

पहले विकेट के चोट से पूरी तरह उभर नहीं पायी मेजबान न्यूजीलैंड की टीम को जल्द ही दूसरा झटका केटलिन गरे के रुप में लगा। केटलिन राधा यादव की गेंद पर मानसी जोशी को कैच थमाकर 11 गेंदों में एक चौके की मदद से चार रन बनाकर आउट हो गईं। भारतीय टीम की मैच में वापसी के बीच सूजी बेट्स ने दूसरे छोर से मोर्चा संभाला और तूफानी पारी खेलते हुए 52 गेंदों में पांच चौकों की मदद से 62 रन की मैच जिताऊ पारी खेली।

उनके अलावा कप्तान सैटर्थवेट ने 20 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 23 रन, कैटे मार्टिन ने 12 गेंदों में एक चौका की मदद से 13 रन बनाए। वहीं ऐना पिटर्सन पहली गेंद में आउट हो गईं। हालांकि लेग कैस्पेरेक और हनाह रोव ने नाबाद रहकर अंतिम गेंद में अपनी टीम को जीत दिलाई। कैस्पेरेक ने पांच गेंदों में चार और रोव ने तीन गेंदों पर चार रन बनाए।

भारत की तरफ से राधा यादव ने चार ओवर में 23 रन देकर दो विकेट और अरुंधति रेड्डी ने चार ओवर में 22 रन देकर दो विकेट झटके। इनके अलावा पूनम यादव ने चार ओवर में 32 रन देकर एक विकेट, मानसी जोशी ने चार ओवर में 35 रन देकर एक विकेट लिए। वहीं दीप्ति शर्मा को कोई विकेट नहीं मिला और उन्होंने चार ओवरों में 19 रन दिए। तीन मैचों में 0-2 से सीरीज हार चुकी भारत का तीसरा और आखिरी मुकाबला रविवार 10 फरवरी को हैमिल्टन में खेला जाएगा।