विश्वविद्यालय शिक्षकों को नया यूजीसी वेतनमान,रुक्टा (राष्ट्रीय) ने जताया आभार

 

सिरोही Ructa ने जताया आभार
सिरोही Ructa ने जताया आभार

सबगुरु न्यूज-सिरोही, 2 अक्टूबर। राजस्थान विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय शिक्षक संघ (राष्ट्रीय) ने राज्य सरकार द्वारा महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय शिक्षकों को सातवें वेतनमान के अनुरूप नवीन यूजीसी वेतनमान देने हेतु आभार व्यक्त किया है।

रुक्टा (राष्ट्रीय) के अध्यक्ष डॉ दिग्विजय सिंह ने बताया कि आज वित्त विभाग द्वारा महाविद्यालय शिक्षकों के लिए तथा शिक्षा ग्रुप-4 विभाग द्वारा विश्वविद्यालय शिक्षकों के लिए नवीन यूजीसी वेतनमान के आदेश जारी किए गए। सरकार द्वारा बिना कोई कमेटी बनाए महाविद्यालय एवम् विश्वविद्यालय शिक्षकों के लिए वार्ता के आधार पर वेतनमान के आदेश जारी करना स्वागत योग्य है।

रुक्टा (राष्ट्रीय) के महामंत्री डॉ नारायण लाल गुप्ता ने बताया कि जारी वेतनमान आदेशों में यूजीसी के अनुरूप पे स्केल्स दी गई हैं किंतु फिर भी आदेश में कुछ विसंगतियां हैं। नवीन यूजीसी वेतनमान 1 जनवरी 2016 के स्थान पर वास्तविक रूप से 1 जनवरी 2017 से लागू किए गए हैं तथा 1 वर्ष का नोशनल लाभ दिया गया है। इसी प्रकार प्रोबेशनर अध्यापक के फिक्स वेतन में तथा नवीन नियुक्त होने वाले स्नातक प्राचार्य के वेतनमान में भी विसंगति है।

रुक्टा (राष्ट्रीय) आज जारी नवीन यूजीसी वेतनमान के आदेश के लिए मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे एवं उच्च शिक्षा मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी का धन्यवाद करते हुए अपेक्षा करता है कि आदेश में रही विसंगतियों को व्यापक शिक्षक हित में शीघ्र दूर किया जाएगा।

पाली विभागध्यक्ष संजय पुरोहित ने बताया कि स्थानीय रुक्टा राष्ट्रीय इकाई के शिक्षकों डॉ. के. के. शर्मा (प्राचार्य, राज. महाविद्यालय, सिरोही), प्रो. कुसुम राठौड़ (पाली विभाग महिला प्रतिनिधि), डॉ. गायत्री प्रसाद, डॉ. रुचि पुरोहित, डॉ. मीना जैन, प्रो. अतुल भाटिया, डॉ. जी. वी. मिश्रा इत्यादि ने भी वेतनमान घोषणा का स्वागत किया।