निफ्टी नए शिखर पर, सेंसेक्स 52 हजार के करीब

मुंबई। कोविड-19 के मामलों में लगातार आ रही कमी से घरेलू शेयर बाजारों में आज चौतरफा लिवाली देखी गई। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी और बीएसई का सेंसेक्स एक प्रतिशत की बढ़त के साथ बंद हुआ।

निफ्टी लगातार सातवें दिन चढ़ता हुआ पहली बार 15,500 अंक के पार पहुंच गया। यह 147.15 अंक यानी 0.95 प्रतिशत उछलकर 15,582.80 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। बीच कारोबार में यह 15,606.35 अंक तक चढ़ा।

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स भी लगातार चौथे दिन मजबूत हुआ और 514.56 अंक यानी एक प्रतिशत की बढ़त के साथ 51,937.44 अंक पर पहुंच गया जो 16 फरवरी के बाद का उच्चतम स्तर है। कारोबार की समाप्ति से पहले कुछ देर के लिए यह 52 हजार अंक के पार जाने में भी सफल रहा।

रिलायंस इंडस्ट्रीज का प्रदर्शन लगातार दूसरे दिन सेंसेक्स की कंपनियों में सबसे अच्छा रहा। उसका शेयर 3.13 प्रतिशत उछल गया। बैंकिंग एवं वित्तीय कंपनियों में भी लिवाली रहने से सूचकांक लगातार मजबूत होता गया। आईसीआईसीआई बैंक का शेयर 2.95 फीसदी चढ़ा।

मझौली और छोटी कंपनियों में निवेशकों ने कम पैसा लगाया। बीएसई का मिडकैप 0.45 प्रतिशत चढ़कर 21,758.39 अंक और स्मॉलकैप 0.50 फीसदी की मजबूती के साथ 23,595.98 अंक पर पहुंच गया।

सेंसेक्स की 30 में से 22 कंपनियों के शेयर हरे निशान में और शेष आठ के लाल निशान में बंद हुये। रिलायंस इंडस्ट्रीज और आईसीआईसीआई बैंक के बाद भारती एयरटेल में सर्वाधिक 2.16 प्रतिशत और डॉ. रेड्डीज लैब में 2.08 प्रतिशत की तेजी रही।

मारुति सुजुकी का शयेर 1.89 प्रतिशत, आईटीसी का 1.76 प्रतिशत, एनटीपीसी का 1.46 प्रतिशत, एक्सिस बैंक का 1.39 प्रतिशत और अल्ट्राटेक सीमेंट का 1.34 प्रतिशत चढ़ा। टाइटन का शयेर 1.13 फीसदी, ओएनजीसी का 1.11 फीसदी, नेस्ले इंडिया का 1.06 प्रतिशत और एचडीएफसी बैंक का 1.02 प्रतिशत मजबूत हुआ। महिंद्रा एंड महिंद्रा का शेयर सबसे अधिक 4.53 फीसदी लुढ़क गया।

अधिकतर प्रमुख एशियाई बाजार हरे निशान में रहे। दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.48 प्रतिशत, चीन का शंघाई कंपोजिट 0.41 प्रतिशत और हांगकांग का हैंगसेंग 0.09 प्रतिशत मजबूत हुआ जबकि जापान का निक्केई 0.99 प्रतिशत की गिरावट में बंद हुआ। यूरोप में शुरुआती कारोबार में जर्मनी का डैक्स 0.23 फीसदी लुढ़क गया जबकि ब्रिटेन का एफटीएसई 0.04 प्रतिशत चढ़ा।

सेंसेक्स 53.34 अंक की मजबूती के साथ 51,476.22 अंक पर खुला, लेकिन खुलते ही लाल निशान में चला गया। हालांकि कुछ देर बाद ही वापसी करता हुआ यह हरे निशान में आ गया और इसके बाद इसका ग्राफ लगातार चढ़ता गया। यह नीचे 51,179.94 अंक और ऊपर 52,013.22 अंक तक गया। अंत में गत दिवस की तुलना में एक प्रतिशत चढ़कर 51,937.44 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई में कुल 3,427 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,744 कंपनियों के शेयरों में तेजी और अन्य 1,492 में गिरावट रही जबकि शेष 191 कंपनियों के शेयर अंतत: अपरिवर्तित बंद हुए।

निफ्टी 2.10 अंक चढ़कर 15,437.75 अंक पर खुला। इसका ग्राफ भी सेंसेक्स की तरह ही रहा। सुबह के कारोबार में यह 15,374 अंक तक उतर गया था। कारोबार की समाप्ति से पहले 15,606.35 अंक तक चढ़ने के बाद अंत में गत दिवस की तुलना में 0.95 फीसदी ऊपर 15,582.80 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 39 कंपनियों के शेयर हरे निशान में और शेष 11 के लाल निशान में रहे।