अजमेर संभाग में फर्जी परीक्षार्थियों के नौ आरोपी अरेस्ट

अजमेर। राजस्थान में अजमेर रेंज पुलिस द्वारा नीट, जेईई एवं कॉमेड परीक्षा में कमजोर परीक्षार्थियों के स्थान पर फर्जी परीक्षार्थियों को बैठाकर धोखाधड़ी के आरोप में पुलिस ने अब तक राष्ट्रीय गैंग के नौ अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस महानिरीक्षक एस. सेंगाथिर ने आज बताया कि अजमेर रेंज कार्यालय स्तर पर एकत्रित गोपनीय सूचना के बाद की गई कार्यवाही में चार अभियुक्तों गजेंद्र स्वामी, अर्पित स्वामी, मोहम्मद तनजीर, योगेंद्र स्वामी को परीक्षा से एक दिन पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया था। उसके बाद पुलिस ने कार्यवाही को आगे बढ़ाते हुए विशेष टीम को जयपुर भेजा।

जयपुर टीम ने दो दलालों राजन राजगुरु (32) थाना बालोतरा जिला बाड़मेर तथा महेंद्र कुमार सैनी (27) थाना नीम का थाना जिला सीकर को गिरफ्तार किया और उनके द्वारा बैठाए फर्जी अभ्यर्थियों प्रवीण मड्डा (20) थाना जसवंतगढ़ नागौर, अंकित यादव (22) थाना नीमराना जिला अलवर, प्रधुम्न सिंह (26) थाना महामंदिर जोधपुर, सांवरमल सुनार (25) थाना बग्गड़ जिला झुंझुनूं एवं दो लड़कियों और उनका एजेंट अनोज विजाणिया (24) थाना नीम का थाना जिला सीकर को गिरफ्तार किया गया। अब इन्हीं आरोपियों को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

सेंगाथिर ने बताया कि प्रारंभिक पूछताछ में दोनों दलालों राजन राजगुरु एवं महेंद्र कुमार सैनी द्वारा नीट परीक्षा 2021 में वास्तविक अभ्यर्थी के स्थान पर पैसे लेकर फर्जी अभ्यर्थियों द्वारा परीक्षा दिलवाया जाना सामने आया है।

ये दोनों ही दलाल मेडिकल एवं इंजीनियरिंग कॉलेजों में गरीब होनहार छात्रों को पैसे का प्रलोभन देकर उन्हें डमी कैंडिडेट बनाकर परीक्षा दिलवाने का काम करवाते हैं। पुलिस सभी से अनुसंधान में जुटी हुई है।