राहुल गांधी का मोदी के गले लगना और फिर उडा ‘मजाक’

no-confidence motion in parliament : rahul gandhi hugs pm modi
no-confidence motion in parliament : rahul gandhi hugs pm modi

नई दिल्ली। सियासी दुश्मनी के बीच संसद में जिस तरह शिष्टाचार राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी के गले मिलकर निभाया उसे ​सोशल मीडिया में मजाक की तरह लिया जा रहा है। इसके अलावा भाषण के दौरान दो बार जुबां फिसलने पर भी सदन में हंसी का फव्वारा फट पडा।

मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर राहुल का भाषण खत्म होते ही बीजेपी ने भी टिवट के जरिए पहली प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मनोरंजन के लिए राहुल को धन्यवाद। महिला सांसद एवं मंत्री हरसिमरत कौर ने तो यहां तक कह दिया कि संसद मुन्ना भाई की तरह झप्पी देने की जगह नहीं है।

बतादें कि भाषण खत्म कर मोदी के पास गए और उनके गले लग गए। इस दौरान मोदी उनकी पीठ थपथपा रहे थे। गले मिलकर लौटने लगे तो पीएम ने उन्हें फिर बुलाया और हाथ मिलाया।

सदन में सरकार को खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए गांधी ने प्रधानमंत्री पर तीखे हमले करते हुए कई आरोप लगाए। अपनी बात खत्म करके वह प्रधानमंत्री की सीट के पास गए और उनसे गले लगने के लिए उठने का संकेत किया। मोदी ने बैठे-बैठे ही उनसे हाथ मिलाने के लिए अपना हाथ आगे बढ़ाया, लेकिन गांधी ने हाथ मिलाने के बजाय गले लगने का इशारा किया।

प्रधानमंत्री जब तक कुछ समझ पाते, कांग्रेस अध्यक्ष ने खुद ही झुककर उन्हें गले लगा लिया और वहां से जाने लगे तो मोदी ने आगे निकल चुके गांधी को आवाज लगाकर अपने पास बुलाया और उनसे गर्मजोशी से हाथ मिलाया। प्रधानमंत्री का बायां हाथ गांधी की पीठ थपथपा रहा था।

इस अप्रत्याशित घटना पर सदन में हंसी के फव्वारे छूट गए। इसके तुरंत बाद अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने गांधी से कहा कि राहुल जी, सदन के कुछ अपने कायदे-कानून होते हैं।

गांधी ने अपनी सीट पर जाकर कहा कि यह कांग्रेस और कांग्रेसियों का अपना अंदाज है। आप हमारे ऊपर कितना भी कीचड़ उछालो, हम आपको गले लगाएंगे।

राहुल की जुबां फिसली

भाषण देते हुए राहुल गांधी की जुबान फ‍िसल गई और पीएम मोदी भी अपनी हंसी पर काबू नहीं रख पाए। राहुल भाषण करते हुए जीएसटी को लेकर बीजेपी सरकार पर निशाना साध रहे थे। इसके बाद जैसे ही उन्होंने पीएम मोदी की विदेश यात्राओं पर बोलना शुरू किया, उनकी जुबान फ‍िसल गई।

राहुल ने कहा कि जब पीएम बार जाते हैं, यहां ‘बार’ से उनका आशय बाहर से था। उन्होंने अंग्रेजी में मतलब समझाते हुए कहा कि मतलब एब्रॉड (abroad) यानी जब पीएम ओबामा, ट्रंप आदि से मिलने जाते हैं, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी।

बीजेपी के नेता उनके इस बयान पर हंसने लगे साथ ही पीएम मोदी भी अपनी हंसी नहीं रोक पाए और जोर जोर से हंसने लगे। पीएम मोदी राहुल गांधी के भाषण के दौरान दोबारा उस समय हंस पड़े, जब राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री अपनी आंख मेरी आंख में नहीं डाल सकते हैं।

नरेन्द्र मोदी पर राहुल गांधी के आरोपों से लोकसभा में हंगामा