अयोध्या में प्रवेश चाहिए तो परिचय पत्र दिखाईये

अयोध्या, शिवसेना और विश्व हिन्दू परिषद (विहिप)के कार्यक्रमों को देखते हुये अयोध्या में सुरक्षा का फूलप्रूफ प्लान तैयार किया गया है। सुरक्षा के कड़े प्रबन्ध किये गये है। बिना परिचय पत्र दिखाये बाहरी व्यक्तियों को अयोध्या मेें प्रवेश नही जाने दिया जा रहा है।

आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि विवादित रामजन्म भूमि परिसर पर भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिये विहिप ने 25 नवम्बर को धर्मसभा का अायोजन किया है जिसमें एक लाख से अधिक कार्यकर्ताओं के शामिल होने की उम्मीद की जा रही है। वही शिवसेना ने 24 नवम्बर को अयोध्या में साधु संतों को सम्मानित करने का अायोजन किया है। इस कार्यक्रम में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे शिरकत कर रहे है। अयोध्या को चारों तरफ से सीज कर दिया गया है।

दोनों कार्यक्रमों के मद्देनजर अयोध्या में बिना परिचय पत्र दिखाये प्रवेश पर पाबंदी लगा दी है। विवादित राम जन्म भूमि के आसपास रहने वाले लोगों को भी बिना बिना प्रवेश पत्र दिखाने आने जाने रोक लगा दी गयी है। पूरी अयोध्या नगरी छावनी में तब्दील नजर आ रही है। चारों तरफ पीएसी, आएएफ तथा पैरा मिलट्री फोर्स दिखायी पड़ रही है।