अन्नाद्रमुक में शशिकला के लिए कोई स्थान नहीं : इडाप्पडी पलानीस्वामी

चेन्नई। अन्नाद्रमुक संयुक्त समन्वयक एवं तमिलनाडु विधान सभा में विपक्ष के नेता इडाप्पडी पलानीस्वामी ने शुक्रवार को कहा कि पार्टी से निष्कासित नेता वीके शशिकला के लिए अब कोई स्थान नहीं है।

यहां पार्टी जिला सचिवों के साथ बैठक करने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए पलानीस्वामी ने कहा कि शशिकला ने विधानसभा चुनाव से पहले ही एक बयान जारी किया था कि वह राजनीति से दूर रहेंगी। वह पूर्व मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री जे जयललिता की करीबी सहयोगी रही हैं।

पलानीस्वामी से शशिकला के हाल ही के एक ऑडियो के बारे में पूछा गया जिसमें उन्होंने कहा कि वह अन्नाद्रमुक को सही रास्ते पर लाने और दिवंगत नेताओं एमजीआर और जयललिता के दिखाए गए मार्ग पर चलने के लिए मार्गदर्शन करेंगी। इस पर विपक्ष के नेता ने कहा कि शशिकला अब अन्न्नाद्रमुक में नहीं है।

हाल ही में सोशल मीडिया पर वायरल हुई इस आडियो क्लिप के बारे में पलानीस्वामी ने कहा कि वह (शशिकला) केवल अपने भतीजे टीटीवी दिनाकरण द्वारा गठित एएमएमके की बात कर रही हैं न की अन्नाद्रमुक पार्टी की।

उन्होंने कहा कि ऑडियो को अन्नाद्रमुक में भ्रम पैदा करने के प्रयास में जारी किया गया है, जो छह अप्रैल के विधानसभा चुनावों के बाद सबसे मजबूत विपक्ष के रूप में उभरा है… ऐसा नहीं होगा। उन्होंने कहा कि अन्नाद्रमुक के सभी कार्यकर्ताओं का एक मत था कि सुश्री शशिकला को पार्टी में शामिल नहीं करना चाहिए।

अन्नाद्रमुक समन्वयक ओ पनीरसेल्वम के आज की बैठक में मौजूद नहीं होने के बारे में पूछे जाने पर पलानीस्वामी ने उनके बीच किसी भी तरह की मनमुटाव से इनकार किया और कहा कि वह (ओपीएस) अपने नए घर में शिफ्ट होने में व्यस्त हैं।

नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद पार्टी कार्यालय के अपने पहले दौरे पर उन्होंने कहा कि आज का दिन शुभ होने के कारण मैं पार्टी कार्यालय आया हूं। हाल में जारी ऑडियो क्लिप में शशिकला ने कोविड महामारी के बाद सक्रिय राजनीति में लौटने के संकेत दिए हैं। उनका यह बयान ऐसे समय में आया है जब अन्नाद्रमुक के हाथ से हाल के चुनावों में सत्ता निकल गई है।