अविश्वास प्रस्ताव पर कांग्रेस को केवल 38 मिनट बोलने का मौका

No-confidence motion : 7 hours allotted for debate
No-confidence motion : 7 hours allotted for debate

नई दिल्ली। संसद में सरकार के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव लाने वाली तेलुगु देशम पार्टी को शुक्रवार को होने वाली चर्चा में केवल 13 मिनट और मुख्य विपक्षी कांग्रेस को 38 मिनट का वक्त मिला है। सबसे बड़ा दल होने के नाते भाजपा को सर्वाधिक तीन घंटे 33 मिनट आवंटित किए गए हैं।

लोकसभा सचिवालय के सूत्रों के अनुसार लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सदन में अविश्वास प्रस्ताव पर होने वाली चर्चा के लिए तय सात घंटे के समय को विभिन्न दलों को उनके संख्या बल के आधार पर आवंटित कर दिया है।

जानकारी के अनुसार 273 सदस्यों वाली भाजपा को तीन घंटे 33 मिनट का समय दिया गया है जबकि दूसरे नंबर पर 48 सदस्यों वाली कांग्रेस पार्टी को 38 मिनट का समय दिया गया है।

सूत्रों के अनुसार अन्नाद्रमुक को 29 मिनट, तृणमूल कांग्रेस को 27 मिनट, बीजू जनता दल को 15 मिनट, शिवसेना को 14 मिनट, तेलुगु देशम पार्टी को 13 मिनट, तेलंगाना राष्ट्र समिति को नौ मिनट, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी को सात मिनट, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी एवं समाजवादी पार्टी को छह-छह मिनट तथा लोकजनशक्ति पार्टी को पांच मिनट आवंटित किए गए हैं।

शिरोमणि अकाली दल, राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी, पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी, पीएमके, सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट अौर स्वतंत्र पक्ष के कुल 15 सदस्यों के लिए 12 मिनट का समय रखा गया है जबकि आम आदमी पार्टी, राष्ट्रीय जनता दल, वाईएसआर कांग्रेस, एआईयूडीएफ, इंडियन नेशनल लोकदल, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग, एनडीपीपी, राष्ट्रीय लोकदल, रेवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी (आरएसपी) एवं निर्दलीय आदि कुल 33 सदस्यों के लिए 26 मिनट का समय आवंटित किया है।

सदन में अविश्वास प्रस्ताव पर पूर्वाह्न 11 बजे चर्चा आरंभ होगी तथा शाम छह बजे तक चलेगी। तत्पश्चात प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चर्चा का जवाब देंगे।