डेविड जूलियस और अर्डेम पैटापाउटियन को चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार

स्टॉकहोम। अमरीकी वैज्ञानिकों डेविड जूलियस और अर्डेम पैटापाउटियन को तापमान और स्पर्श संबंधी रिसेप्टर्स की खोजों के लिए चिकित्सा क्षेत्र के नोबेल पुरस्कार से संयुक्त रूप से नवाजा गया है।

कैरोलिंस्का इंस्टिट्यूट स्थित नोबेल असेंबली ने सोमवार को दाेनों वैज्ञानिकों को साझा रूप से पुरस्कार प्रदान करने की घोषणा की।

असेंबली ने बताया कि डेविड जूलियस ने मिर्च से मिलने वाले तीखे और जलन उत्पन्न करने वाले यौगिक कैप्साइसिन का उपयोग कर जलन महसूस होने पर प्रतिक्रिया देने वाले त्वचा की तंत्रिका के अंत में पाए जाने वाले एक सेंसर की पहचान की।

अर्डेम पैटापाउटियन ने दबाव के प्रति संवेदनशील कोशिकाओं का उपयोग कर त्वचा और आंतरिक अंगों में यांत्रिक उत्तेजनाओं के लिए जिम्मेदार सेंसर के एक नवीन वर्ग की खोज की।

असेंबली ने बताया कि इन सफल खोजों ने गहन शोध गतिविधियों को शुरू किया जिससे तंत्रिका तंत्र द्वारा गर्मी, ठंड और यांत्रिक उत्तेजना को महसूस किए जाने संबंधी हमारी समझ में तेजी से बढ़ोतरी हुई है।