शिक्षक प्रशिक्षण के लिए अब होगी एक नोडल एजेन्सी

nodal agency for teacher training in hindi
nodal agency for teacher training in hindi

जयपुर । राजस्थान में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए शिक्षक प्रशिक्षण (टीचर्स ट्रेनिंग) को विश्वस्तरीय मानदंडों पर विकसित किये जाने के लिए ‘राजस्थान राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद्’ (आरएससीईआरटी) का गठन किया गया है।

शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने आज बताया कि राजस्थान राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण संस्थान,उदयपुर (एसआईईआरटी) के स्थान पर पुर्नगठित ‘राजस्थान राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद् राज्य में समस्त प्रकार के शिक्षक प्रशिक्षण के लिए नोडल एजेन्सी के रूप में कार्य करेगी।

देवनानी ने बताया कि मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे की पहल पर गठित यह परिषद् प्रदेश में प्री-प्राईमरी से सीनियर सैकण्डरी और जिला शिक्षक प्रशिक्षण संस्थानों (डाईट्स) के पाठ्यक्रम निर्माण के साथ ही शिक्षक प्रशिक्षण के मूल्यांकन और शिक्षण में शोध को बढ़ावा देने का भी कार्य केरगी। उन्होंने बताया कि राजस्थान की शिक्षा नीति को राष्ट्रीय शिक्षा नीति के समानान्तर विकसित किए जाने के तहत आरएससीईआरटी शिक्षण के जरिए युवाओं की क्षमता विकास का कार्य भी करेगी।

उन्होंने बताया कि एसआईईआरटी राज्य में विद्यालयी शिक्षा के तहत कक्षा एक से 12 तक के लिए शैक्षिक प्राधिकरण के रूप में स्वायत्तशासी परिषद् के रूप मे कार्य करेगी। अब जिला स्तर पर स्थापित सभी डाईट्स पर भी एसआईईआरटी का नियंत्रण होगा।