अजमेर के उपभोक्ता TPADL की वेबसाइट से ऐप्लीकेशन फाॅर्म डाउनलोड कर सकते हैं

अब अजमेर के उपभोक्ता टीपीएडीएल की वेबसाइट से ऐप्लीकेशन फाॅर्म डाउनलोड कर सकते हैं
अब अजमेर के उपभोक्ता टीपीएडीएल की वेबसाइट से ऐप्लीकेशन फाॅर्म डाउनलोड कर सकते हैं

अजमेर। टाटा पावर, भारत की सबसे बड़ी एकीकृत बिजली कंपनी, ने अजमेर में अपने उपभोक्ताओं की सहूलियत के लिए एक नई डिजिटल पहल को शुरू किया है। टीपी अजमेर डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड (टीपीएडीएल) के उपभोक्ता अब कई सारी सेवाओं के लिए फाॅम्र्स को कंपनी की वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं। इसमें नये बिजली कलेक्शन के लिए आवेदन करने जैसी सुविधायें शामिल हैं।

28 मई 2018 से, उपभोक्ताओं के पास अब कंपनी की वेबसाइट ूूूण्जचंकसण्बवउ से नये बिजली कनेक्शन, लोड में बदलाव, नाम में बदलाव, टैरिफ में बदलाव और पते में बदलाव करने जैसी सेवाओं के लिए फाॅर्म डाउनलोड एवं प्रिंट करने का विकल्प मौजूद है। टीपी अजमेर डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड के सीईओ, श्री योगेश लूथरा ने कहा, ‘‘हमारे उपभोक्ताओं की सहूलियत को ध्यान में रखकर, हमने इस सुविधा को शुरू किया है और हमें भरोसा है कि इससे हमें उनका समय बचाने में मदद मिलेगी। उपभोक्ता कहीं से भी आवेदन प्रपत्र को प्रिंट कर सकते हैं। टीपीएडीएल अपने उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए प्रतिबद्ध है।‘‘

टीपी अजमेर डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड ने अपनी वेबसाइट पर इस तरह की सेवाओं के लिए आवश्यक दस्तावेजों की सूची भी अपलोड की है ताकि उपभोक्ता अपनी सहूलियत के अनुसार इसे देख सकें और डाउनलोड कर सकें।

टाटा पावर के विषय में:

टाटा पावर भारत की सबसे बड़ी एकीकृत पावर कंपनी है, जिसकी अंतरराष्ट्रीय उपस्थिति निरंतर बढ़ रही है। कंपनी ने अपनी अनुषंगियों और संयुक्त रूप से नियंत्रित उपक्रमों के साथ मिलकर 10757 मेगावाट की सकल उत्पादन क्षमता स्थापित की है और पावर सेक्टर के सभी सेगमेंट्स में अपनी उपस्थिति बढ़ाई है। इनमें फ्यूल सिक्योरिटी एवं लाॅजिस्टिक्स, जेनरेशन (थर्मल, हाइड्रो, सोलर एवं विंड), ट्रांसमिशन, डिस्ट्रीब्यूूशन और ट्रेडिंग शामिल हैं। भारत में जेनरेशन, ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन में इसकी सफल पब्लिक-प्राइवेट साझेदारियाँ हैं।

इनमें उत्तरी दिल्ली में वितरण के लिये दिल्ली विद्युत बोर्ड के साथ ‘टाटा पावर डेल्ही डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड‘, भूटान में ताला हाइड्रो प्लांट से दिल्ली तक पावर की निकासी के लिये पावर ग्रिड काॅर्पोरेशन आॅफ इंडिया लिमिटेड के साथ ‘पावरलिंक्स ट्रांसमिशन लिमिटेड‘ और झारखंड में 1050 मेगावाॅट के मेगा पावर प्रोजेक्ट के लिये दामोदर वैली काॅर्पोरेशन के साथ ‘मैथन पावर लिमिटेड‘ शामिल हैं।

टाटा पावर द्वारा भारत में 2.6 मिलियन से अधिक वितरण ग्राहकों को सेवायें प्रदान की जा रही हैं और इसने गुजरात के मूंदड़ा में देश के पहले 4000 मेगावाॅट अल्ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्ट को स्थापित किया है, जोकि सुपर क्रिटिकल टेक्नोलाॅजी पर आधारित है। यह भारत में एक सबसे बड़ी अक्षय ऊर्जा कंपनी भी है, जिसका क्लीन एनर्जी पोर्टफोलियो 3417 मेगावाॅट का है।

इसकी अंतरराष्ट्रीय उपस्थिति में इंडोनेशिया में प्रमुख कोयला कंपनी पीटी काल्टिम प्राइमा कोल (केपीसी) में 30 प्रतिशत हिस्सदारी व पीटी बारामल्टी सुकसेसरना टीबीके (‘‘बीएसएसआर‘‘) में खनन में 26 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ रणनीति निवेश तथा सिंगापुर में कोयले की आपूर्ति और इसके थर्मल पावर जेनरेशन परिचालनों के लिये कोयले की शिपिंग के लिये ट्रस्ट एनर्जी रिसोर्सेज के माध्यम से निवेश शामिल हैं।

इसके साथ ही यह दक्षिण अफ्रीका में सब सहारा अफ्रीका में परियोजनाओं को विकसित करने के लिये एक संयुक्त उपक्रम ‘सेनर्जी‘ के नाम से मौजूद है। जाम्बिया में 120 मेगा वाट हाइड्रो के लिये जेस्को के साथ इसका 50ः50 का संयुक्त उपक्रम है, जिसका परिचालन 2016 में शुरू हो चुका है। वहीं, जाॅर्जिया में यह एजीएल के नाम से मौजूद है, जोकि 187 मेगावाट के हाइड्रो प्रोजेक्ट के विकास के लिये क्लीन एनर्जी, नार्वे एवं आइएफसी के साथ एक संयुक्त उपक्रम है।

इन सबके अलावा भूटान की शाही सरकार के साथ साझेदारी में एक हाइड्रो प्रोजेक्ट के माध्यम से इसने भूटान में भी अपनी उपस्थिति दर्ज करा रखी है। टेक्नोलाॅजी लीडरशिप, प्रोजेक्ट को लागू करने में उत्कृष्टता, विश्व स्तरीय सुरक्षा प्रक्रियाओं, कस्टमर केयर और हरित पहलों को आगे बढ़ाने में ट्रैक रिकाॅर्ड के साथ टाटा पावर कई गुणा विकास करने के लिये तैयार है। कंपनी आगामी पीढ़ियों के लिये ‘जिंदगी को रौशन‘ करने के लिये प्रतिबद्ध है। अधिक जानकारी के लिये ूूूण्जंजंचवूमतण्बवउ पर लाॅग आॅन करें