एनटीपीसी ने बालिका सशक्तीकरण अभियान का उद्घाटन किया

एनटीपीसी ने बालिका सशक्तीकरण अभियान का उद्घाटन किया
एनटीपीसी ने बालिका सशक्तीकरण अभियान का उद्घाटन किया

भारत की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादन कंपनी एनटीपीसी मेेेहिलाओं और बालिकाओं केे उत्थान में अग्रणी रही है और हमेशा से उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए सहायता प्रदान करती रही है। इसी दिशा में एक कदम आगे बढ़ाते हुए एनटीपीसी ने 21 मई 2018 विंध्याचल, सिंगरौली एवं रिहंद परियोजनाओं में और इसके आस-पास के क्षेत्रों में बालिकाओं को सशक्त बनाने के लिए ‘बालिका सशक्तीकरण मिशन’ अभियान की पहली परियोजना के उद्घाटन का ऐलान किया है। एनटीपीसी परियोजनाओं केे आस-पास रहने वाली बालिकाओं को हर संभव तरीके से शिक्षित और सशक्त बनाना इस अभियान का मुख्य उद्देश्य है।

इस अनूठी सामरिक सीएसआर पहल के माध्यम से, बालिकाओं के सशक्तीकरण को बढ़ावा देने के प्रयास में एनटीपीसी बालिकाओं को शिक्षा, स्वास्थ्य एवं आत्म-रक्षा के बारे में जागरुक बनाना चाहती है। चार सप्ताह तक चलने वाली इस रिहायशी कार्यशाला में विंध्याचल से 137, सिंगरौली से 125 और रिहंद से 130 बालिकाएं हिस्सा ले रही हैं, जिसका आयोजन इन क्षेत्रों के संबंधित कर्मचारी विकास केन्द्रों में किया जाएगा। एनटीपीसी परियोजनाओं एवं आस-पास केेे क्षेत्रों से 10-12 आयुवर्ग की बालिकाएं इस कार्यक्रम में हिस्सा लेे रही हैं।

आज के दौर में, शिक्षा प्रणाली को सशक्त बनाना तथा बालिकाओं में सामाजिक, भावनात्मक और विचारात्मक कौशल विकसित करना बेहद ज़रूरी हो गया है। एनटीपीसी द्वारा शुरू किया गया बालिका सशक्तीकरण अभियान इसके व्यापक कोरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के प्रति कंपनी की प्रतिबद्धता की पुष्टि करता है। इस पहल के तहत विशेष कार्यक्रमों के माध्यम से बालिकाओं को हिंदी एवं अंग्रेज़ी में संचार कौशल तथा गणित, स्वच्छता, पोषण, योग और खेलों में भी बुनियादी शिक्षा प्रदान की जाएगी। बालिकाओं को लिंग विविधता एवं साइबर सुरक्षा के मुद्दे पर जागरुक बनाने के लिए सामुहिक गतिविधियों, फिल्म स्क्रीनिंग का आयोजन किया जाएगा। इसके अलावा संगीत, नृत्य, थिएटर आदि का आयोजन भी किया जाएगा।

इस कार्यक्रम के माध्यम से एनटीपीसी ग्रामीण भारत में कन्या भ्रूण हत्या से जुड़ी गलत अवधारणाओं को दूर करने का प्रयास कर रही है और बच्चों को उनकी क्षमता एवं प्रतिभा प्रदर्शित करने का अवसर प्रदान कर रही है। एनटीपीसी अपने सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत समाज कल्याण के लिए कई कार्यक्रमों का संचालन कर रही है, इसके तहत परियोजनाओं के आस-पास के क्षेत्रों में रहने वाली सभी आयुवर्गों की महिलाओं के सशक्तीकरण पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।