नवीन पटनायक मंत्रिमंडल में फेरबदल, 21 नए मंत्रियों को दिलाई शपथ

भुवनेश्वर। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने रविवार को अपने मंत्रिमंडल में 21 मंत्रियों को शामिल करके मंत्रालय में बड़ा बदलाव किया है। नए मंत्रिमंडल में 13 कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं जबकि आठ नेताओं को राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बनाया गया है।

ओडिशा के राज्यपाल प्रोफेसर गणेशी लाल ने राज्य सचिवालय के लोक सेवा भवन के कन्वेंशन हॉल में नए मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। ओडिशा के राजनीतिक इतिहास में यह पहला मौका है जब मंत्रिपरिषद का शपथ ग्रहण समारोह राजभवन के अलावा कहीं और आयोजित किया गया।

मुख्यमंत्री ने शनिवार को अपने कैबिनेट के सभी मंत्रियों को अपना इस्तीफा सौंपने को कहा था ताकि मुख्यमंत्री के रूप में उनके पांचवें कार्यकाल के तीसरे वर्ष के दौरान एक नए मंत्रिमंडल का गठन किया जा सके।

तदनुसार, सभी कैबिनेट के 20 मंत्रियों ने स्पीकर एस एन पात्र को अपना इस्तीफा सौंप दिया जिन्होंने खुद भी बाद में तबीयत खराब होने का हवाला देकर अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

राजनीति के जानकारों ने कहा कि साल 2024 में राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी को मजबूत करने के लिए मंत्रालय में बदलाव किया गया है। नए मंत्रालय में मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने 11 मंत्रियों को हटा दिया, जबकि नौ मंत्रियों ने अपने पदों पर बरकरार रखा।

इस बार, मुख्यमंत्री पटनायक ने एक और मंत्री को शामिल किया है, जिससे उनकी सरकार में मंत्रिपरिषद की संख्या मुख्यमंत्री सहित 22 हो गई है। उल्लेखनीय है कि रविवार को शपथ लेने वाले 21 मंत्रियों में से पांच महिलाएं थीं, जिनमें से दो पहले से ही पटनायक सरकार के मंत्रिमंडल में अपनी सेवा दे चुकी हैं।

पटनायक के मंत्रालय में इस बार सात नए मंत्रियों को शामिल किया गया है, जिनमें से नौपाड़ा विधानसभा सीट से तीन बार के विधायक रह चुके राजेंद्र ढोलकिया को पहली बार मंत्रिमंडल में शामिल किया गया। बाकी छह नए लोगों को स्वतंत्र प्रभार के साथ राज्य मंत्री के रूप में शामिल किया गया है।

ओडिशा मंत्रिमंडल में विभागों का वितरण

कैबिनेट मंत्री

जगन्नाथ सरकार- अनुसूचित जाति व जनजाति विकास, अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण, कानून मंत्री।

निरंजन पुजारी- वित्त व संसदीय कार्य मंत्री।

रणेंद्र प्रताप स्वैन- कृषि और किसान सशक्तिकरण, मत्स्य पालन और पशु संसाधन विकास मंत्री।

प्रदीप कुमार आमत- वन एवं पर्यावरण, पंचायती राज और पेयजल, सूचना और जनसंपर्क मंत्री।

प्रमिला मल्लिक- राजस्व और आपदा प्रबंधन मंत्री।

उषा देवी- आवास और शहरी विकास मंत्री।

प्रफुल्ल कुमार मलिक- इस्पात-खनन और निर्माण मंत्री।

प्रताप केशरी देव- उद्योग, सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम, ऊर्जा मंत्री।

अतनु सभा सची नायक- खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता कल्याण, सहकारिता मंत्री।

नवा किशोर दास- स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री।

तुकुनी साहू- जल संसाधन, वाणिज्य और परिवहन मंत्री।

अशोक चंद्र पांडा- विज्ञान और प्रौद्योगिकी, सार्वजनिक उद्यम, सामाजिक सुरक्षा, और विकलांगों का सशक्तीकरण।

राजेंद्र ढोलकिया- योजना और अभिसरण मंत्री।

राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)

समीर रंजन दास- स्कूल और जन शिक्षा मंत्री।
अश्विनी कुमार पात्र- पर्यटन, उड़िया भाषा, साहित्य और संस्कृति, उत्पाद शुल्क मंत्री।
प्रीति रंजन घड़ाई- ग्रामीण विकास, कौशल विकास और तकनीकी शिक्षा मंत्री।
श्रीकांत साहू- श्रम और कर्मचारी राज्य बीमा मंत्री।
तुषारकांति बेहरा- इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी, खेल और युवा सेवाएं मंत्री
रोहित पुजारी- उच्च शिक्षा मंत्री।
रीता साहू- हथकरघा, कपड़ा और हस्तशिल्प मंत्री।
बसंती हेम्ब्रम – महिला एवं बाल विकास और मिशन शक्ति मंत्री।

राज्य मंत्री

तुषारकांति बेहरा- गृह मंत्री