त्रिपुरा में बच्चा उठाने वाले गिरोह की अफवाहेंं जोरोंं पर, एक की मौत, तीन घायल

One killed, 3 injured as mob in Tripura attacks ‘outsiders’ on suspicion of being child-lifters

अगरतला। त्रिपुरा में इन दिनों बच्चा उठाने वाले गिरोह की अफवाहें जाेरों पर हैं और इन्हीं के चलते राज्य के पश्चिम क्षेत्र मोहनपुर के मुराबारी क्षेत्र में हिंसक भीड़ के हमले में एक व्यक्ति की मौत हाे गई है और तीन अन्य घायल हो गए हैं।

इसी तरह की अफवाहें सिपाही जिला अौर गोमती मेंं भी जोरों पर हैं कि बच्चों काे उठाकर उनके अंग निकालेे जा रहे हैं। पुलिस महानिदेशक एके शुक्ला ने बताया कि मुराबारी में अब स्थिति नियंत्रण में है अौर पुलिस को इस तरह की हिंंसा पर काबूूू पाने के लिए कड़े कदम उठाने को कहा गया है। पुलिस ने लोगों को विश्वास में लेने के लिए उनके बीच जाकर उनके संशय दूूर करने की कोशिश की है।

पुलिस ने मुुुराबारी हिंसा में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है अौर वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं। राज्य के विभिन्न हिस्सों में इस तरह की अफवाहों के चलते कम से कम 14 लोग घायल हो गए हैं और एक की मौत हो गई है।

पश्चिमी त्रिपुरा के जिलाधिकारी डॉ संदीप के महात्मे ने बताया कि राज्य के बाहर से अाए तीन कपड़ा व्यापारियों को लोगों ने बच्चा उठाने वाले गिरोह के लाेग समझ कर उन पर हमला कर दिया अौर एक व्यक्ति की लाठियाें से पीट-पीट कर हत्या कर दी। यह घटना टीएसअार शिविर की है और तीन लोगों ने जवानाें की मदद से अपनी जान बचाई।

पुलिस को स्थिति को नियंत्रित करने के लिए लाठीचार्ज का सहारा लेेना पड़ा। मृतक की पहचान उत्तर प्रदेश निवासी जहीर खान के तौर पर की गई है। घायलाें में उत्तर प्रदेश निवासी खुर्शीद खान और गुुलजार खान तथा उनका चालक अगरतला निवासी स्वप्न मिया है। येे लोग पिछले तीन वर्षाें से शहर में कपड़ा कारोबार कर रहे थे।

पुलिस ने बताया कि तीनाें घायलों को अगरतला मेडिकल कालेज में गंभीर हालत में भर्ती कराया गया है। एक अन्य घटना में बीती रात एक महिला अपने दो बच्चों के साथ जोगेन्द्र्र नगर रेलवे स्टेशन पर रात आई थी और उसे लाेगों ने बच्चा उठाने वाली समझकर उसकी पिटाई की जिसे बाद में पुलिस ने उसे बचाया।

महिला को जीबीपी अस्पताल में भर्ती कराया गया है और उसके दोेनों बच्चाेेें काे सरकारी बाल केन्द्र्र में रखा गया है। इसी तरह की अन्य घटनाएं अन्य हिस्सों में भी हुुई है।