लालू प्रसाद यादव से विपक्षी नेताओं ने रिम्स में की मुलाकात

रांची। झारखंड में चारा घोटाले मामले में सजायाफ्ता राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव से विपक्षी नेताओं ने रांची के राजेन्द्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) जाकर मुलाकात की।

वहीं, रिम्स प्रबंधन की ओर से उनके स्वास्थ्य को लेकर आज मेडिकल रिपोर्ट जारी की गई, जिसमें लालू प्रसाद के स्वास्थ्य को पहले की तुलना में बेहतर बताया गया है।

झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन के नेतृत्व में विपक्षी दलों के नेताओं का एक शिष्टमंडल ने रिम्स जाकर यादव से मुलाकात की।

यादव से मिलकर बाहर निकलने के बाद सोरेन ने बताया कि अब भी उनका स्वास्थ्य अच्छा नहीं है, लेकिन बड़ा ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि उनका समुचित इलाज नहीं हो पा रहा है। उन्होंने बताया कि लालू प्रसाद को 28 मई को सिल्ली और गोमिया विधानसभा उपचुनाव में गठबंधन से भी अवगत कराया।

इस मौके पर कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि यादव को एम्स नई दिल्ली से रिम्स रांची भेज दिया गया है, लेकिन अब भी उन्हें बेहत्तर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराये जाने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि लालू प्रसाद को उपचुनाव में विपक्षी दलों के साझा प्रत्याशी के संबंध में भी अवगत कराया गया।

झारखंड विकास मोर्चा के केंद्रीय महासचिव बंधु तिर्की ने बताया कि लालू प्रसाद को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए एम्स से कहीं और अच्छे संस्थान में भेजा जाना चाहिए था, लेकिन उन्हें रिम्स रांची भेज दिया गया, ऐसी स्थिति में यदि उन्हें कुछ होता है तो इसके लिए एम्स के डॉक्टर ही जिम्मेवार होंगे।

इधर, रिम्स की ओर से यादव के स्वास्थ्य को लेकर जारी मेडिकल रिपोर्ट में बताया गया है कि उनके मधुमेह और रक्तचाप का स्तर ठीक है और स्वास्थ्य भी पहले की तुलना में बेहतर है। बताया गया है कि लालू प्रसाद को अब रिम्स से डिचार्ज कर वापस जेल भी जा सकता है, लेकिन इस संबंध में अभी कुछ स्पष्ट जानकारी नहीं दी गई है।