गुरुद्वारा ग्रेटर कैलाश में आक्सीजन लंगर की शुरुआत

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के कारण दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी से पैदा हुए संकट के बीच गुरुद्वारा सिंह सभा, ग्रेटर कैलाश पार्ट एक (पहाड़ी वाला) की प्रबंधक कमेटी की ओर से दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) के पूर्व अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके के सहयोग से कोरोना मरीजों के लिए ‘आक्सीजन लंगर ’ की शुरुआत की गई है। कमेटी की ओर से जरूरतमंद और गंभीर मरीजों के परिजनों को आक्सीजन सिलेंडर भर कर दिए जा रहे हैं।

दक्षिण दिल्ली के सैकड़ों कोरोना मरीजों के घर-घर तक पिछले कई दिनों से लंगर भेज रही गुरुद्वारा सिंह सभा, ग्रेटर कैलाश पार्ट एक (पहाड़ी वाला) की कमेटी ने आक्सीजन की कमी से तड़प रहे मरीजों के लिए यह व्यवस्था विशेष तौर पर शुरू की है।

इस बारे में जीके ने कहा कि लोग एक-एक पाउंड आॅक्सीजन के लिए तड़प रहे हैं, इसलिए हमारी कमेटी ने फैसला किया कि हम गुरु घर से सभी की मदद करेंगे। हमने ‘पाइप लाइन’ को ‘लाइफ लाइन’ बनाने की ठानते हुए आक्सीजन लंगर की शुरुआत की है, ताकि आक्सीजन के छोटे सिलेंडरों को भरवाने के लिए कोरोना महामारी में हो रही मारामारी और कालाबाजारी से आम आदमी को राहत मिल सके।

जीके ने कहाकि हमारी कोशिश है कि आक्सीजन की कमी से किसी का दम न घुटे, इसलिए हमारी टीमें दिन-रात लाइनों में लगकर बड़े सिलेंडर भरवाने में लगी हुई हैं, ताकि जरूरतमंद तक आक्सीजन पहुंच सके। संकट की इस घड़ी में मैं सभी धार्मिक संस्थाओं से जन सेवा के लिए आगे आने की अपील करता हूं।