आसिफ अली जरदारी को 11 दिन की नेब रिमांड पर भेजा गया

Pakistan : Former President Asif Ali Zardari taken into 11 day physical Remand

इस्लामाबाद। फर्जी खाता मामले गिरफ्तार पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी को मंगलवार एक जवाबदेही अदालत ने राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो की ग्यारह दिन की रिमांड पर भेज दिया।

इस्लामाबाद उच्च न्यायालय के जरदारी और उनकी बहन फरयाल तालपुर की स्थायी जमानत की याचिका खारिज किए जाने और गिरफ्तारी की अनुमति देने के बाद सोमवार को नेब ने गिरफ्तार किया था।

जरदारी को आज जवाबदेही अदालत के समक्ष पेश किया गया। नेब अधिकारियों ने अदालत से नेब की 14 दिन के रिमांड की मांग की थी।

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के सह अध्यक्ष जरदारी को जवाबदेही अदालत के न्यायाधीश मुहम्मद अर्शद के समक्ष पेश किया। सुनवाई के दौरान नेब ने पूर्व राष्ट्रपति की रिमांड की मांग की थी।

नेब के वकील मुजफ्फर अब्बासी ने अदालत को बताया कि बैंक अधिकारियों की मदद से फर्जी बैंक खाते खोले गए। अधिवक्ता ने कहा जरदारी को गिरफ्तार किया गया है और जांच के लिए उनका रिमांड जरुरी है।

जरदारी ने अदालत से नेब कारागार में सुविधा का आग्रह किया। उन्होंने एक सहायक और चिकित्सा सुविधा का आग्रह भी किया। अदालत ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद जरदारी को नेब के ग्यारह दिन की रिमांड पर भेजने का आदेश दिया और उन्हें अब 21 जून को अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा।