पाकिस्तान निगरानी के लिए कर रहा है ड्रोन विमानों का इस्तेमाल

Pakistan is using drone planes for surveillance

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बुधवार को कहा कि नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की तरफ से संघर्षविराम उल्लंघन की घटनाओं में कोई कमी नहीं आई है और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवादी भारतीय सीमा में घुसपैठ के लिए तैयार बैठे हैं।

दिलबाग सिंह ने पत्रकारों को बताया कि एक पाकिस्तानी ड्रोन विमान कल जम्मू के कठुआ क्षेत्र में भारतीय सीमा में घुस आया और सीमा सुरक्षा बल की एक चौकी पर लगभग 11 मिनट तक मंडराता रहा लेकिन सुरक्षा बलों के फायरिंग करने पर इसे वापस कर लिया गया।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में अभी भी काफी संख्या में आतंकवादी भारतीय सीमा में घुसपैठ के लिए तैयार हैं लेकिन भारतीय सैनिक भी पूरी तरह सतर्क हैं। वहां पर आतंकवादियों को पनाह देने वाले ठिकाने केरन और कारनाह सेक्टर में अभी भी सक्रिय हैं। सर्दियों के मौसम में सीमा पार आतंकवादी गतिविधियों में पहले काफी कमी आ जाती थी लेकिन पिछले वर्ष की तुलना में इस बार इनमें काफी इजाफा हुआ है।

इन ठिकानों को अभी तक सक्रिय रखने का एक ही अर्थ है कि पाकिस्तानी सेना हर कीमत पर अधिक से अधिक आतंकवादियोें को भारतीय सीमा में भेजने की फिराक में है।

पुलिस महानिदेशक ने बताया कि सीमा पार से संघर्षविराम उल्लंघन की घटनाओं में कोई कमी नहीं आई है और कुछ दिनाें पहले जम्मू के राजौरी जिले में ऐसी ही एक घटना में एक सैनिक शहीद हाे गया था और एक नागरिक मारा गया था।