इमरान खान ने 178 वोटों संग विश्वास मत किया हासिल

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को यहां नेशनल असेंबली में 178 वोट हासिल कर विश्वास मत जीत लिया। उन्हें विश्वास मत के लिए मिले वोट आवश्यकता से छह अधिक थे।

पाकिस्तान में सीनेट चुनाव में वित्त मंत्री अब्दुल हफीज शेख की हार के कारण इमरान सरकार को नेशनल असेंबली में विशेष सत्र में विश्वास मत प्रस्ताव पेश करना पड़ा। खान को विश्वास मत हासिल करने के लिए 172 वोटों की जरुरत थी।

समाचारपत्र डॉन की रिपोर्ट के अनुसार नेशनल असेंबली के अध्यक्ष ने परिणाम की घोषणा करते हुए कहा कि आठ साल पहले प्रधानमंत्री इमरान 176 वोट हासिल करने के साथ प्रधानमंत्री चुने गए थे। उन्होंने कहा कि आज उन्हें 178 वोट हासिल किए हैं।

खान के समर्थन में उनकी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के 155 सांसदों ने समर्थन दिया। जबकि एमक्यूएम-पी के पांच सांसदो, बलूचिस्तान आवामी पार्टी और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-कुवैद के पांच-पांच, ग्रांड डेमोक्रेटिक अलायंस से तीन, अवामी मुस्लिम लीग और जम्हूरी वतन पार्टी के एक-एक सदस्य ने प्रधानमंत्री को अपना वोट दिया।

इसके अलावा खान के समर्थन में निर्दलीय उम्मीदवार अस्लम भोटानी ने अपना वोट डाला। विश्वास मत हासिल करने के बाद सदन को संबोधित करते हुए खान ने अपने पक्ष में वोट डालने वाले सभी सहयोगियों और सांसदों को धन्यवाद दिया।