पाकिस्तान : पीपीपी नेता रहमान मलिक का निधन

इस्लामाबाद। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद रहमान मलिक का बुधवार को इस्लामाबाद में कोरोना वायरस से संबंधित जटिलताओं के कारण निधन हो गया। वह 70 साल के थे।

मलिक को कोरोना से संक्रमित होने के बाद तबीयत अधिक बिगड़ने की वजह से इस महीने की शुरुआत में वेंटिलेटर पर रखा गया था। वह जनवरी में कोविड-19 से संक्रमित हुए थे। उनकी सेहत में गिरावट आने के बाद उन्हें इस्लामाबाद के निजी अस्पताल की गहन चिकित्सा इकाई में भर्ती कराया गया था, बाद में तबीयत और बिगड़ी तो डॉक्टरों ने एक फरवरी को उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट कर दिया।

कोरोना से उनके फेफड़े बुरी तरह से प्रभावित हो गए थे, जिससे उन्हें सांस लेने की समस्या शुरू हो गई थी। मलिक के भतीजे वकास मलिक ने कहा कि पूर्व सांसद के जनाजे की नमाज इस्लामाबाद के एच-8 सेक्टर की मस्जिद में गुरुवार दोपहर ढाई बजे होगी।

मलिक का लंबा राजनीतिक सफर रहा है। इस दौरान उन्होंने साल 2008 से 2013 तक पाकिस्तान के गृह मंत्रालय और कई अन्य विभागों की जिम्मेदारी संभाली। उन्हें संघीय जांच एजेंसी में उनकी सेवाओं के लिए सितारा-ए-शुजात तथा निशान-ए-इम्तियाज से भी सम्मानित किया जा चुका है।