पाकिस्तान में राष्ट्रपति चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला

Pakistani Presidential Election 2018 : 2 candidates chosen as consensus eludes Opposition alliance
Pakistani Presidential Election 2018 : 2 candidates chosen as consensus eludes Opposition alliance

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के नये राष्ट्रपति के चार सितम्बर को होने वाले चुनाव के लिए विपक्षी दलों के बीच साझा उम्मीदवार खड़ा करने पर सहमति नहीं बन पाई है। राष्ट्रपति पद के लिए सत्तारूढ़ पाकिस्तान-ए-तहरीक पार्टी के आरिफ अल्वी के खिलाफ विपक्ष के दो उम्मीदवार मैदान में हैं।

राष्ट्रपति पद के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने का सोमवार को अंतिम दिन था। चुनाव चार सितम्बर को होना है। बिलावल भुट्टो की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी ने एतजाज अहसान को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है। पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज और मुत्तहिदा मजलिस ए अमाल, अवामी नेशनल पार्टी, पख्तूनवा मिल्ली अवामी पार्टी और नेशनल पार्टी ने जमीयत उलमा-ए-इस्लाम के प्रमुख मौलाना फजलुर रहमान को प्रत्याशी बनाया है।

त्रिकोणीय मुकाबला होने पर डॉ अल्वी के राष्ट्रपति बनने का रास्ता आसान हो जाएगा और एक तरह से उन्हें वाकओवर मिलने जैसा है। पाकिस्तान के वर्तमान राष्ट्रपति ममनून हुसैन का कार्यकाल नौ सितंबर को खत्म हो रहा है।

राष्ट्रपति के चुनाव में संसद और चारों प्रांतीय विधानसभाओं के सदस्य मतदान करते हैं। पीपीपी उम्मीदवार ने पर्चा दाखिल करने के बाद संवाददाताओं से कहा कि उनकी उम्मीदवारी को लेकर केवल यह आपत्ति व्यक्त की गयी है कि पीपीपी ने नामांकन पत्र दाखिल करने से पहले अन्य विपक्षी दलों से विचार-विमर्श नहीं किया।

डान के मुताबिक पीएमएल एन के कार्यकारी महासचिव अहसान इकबाल ने मीडिया से कहा कि सभी पार्टियों ने पीपीपी नेतृत्व से तीन नामों के पैनल के सुझाव का कई बार अनुरोध किया, जिसमें से किसी एक को आम सहमति के साथ उम्मीदवार बनाया जाए। उन्होंने दावा किया कि पीपीपी नेतृत्व ने अहसान के अलावा किसी अन्य की उम्मीदवार से इन्कार कर दिया।