पाकिस्तान में 2018 के चुनाव में धांधली हुई : नवाज शरीफ

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने रविवार को दावा किया कि पाकिस्तानी सेना ने देश में 2018 के आम चुनावों में हेरफेर कर शीर्ष स्थान पर अक्षम व्यक्ति को स्थापित कर दिया था।

पूर्व प्रधानमंत्री ने चुनावों में धांधली करने के मामले में पाकिस्तानी सेना की चर्चा करते हुए कहा कि हमारा संघर्ष इमरान खान के खिलाफ नहीं है। आज, हमारा संघर्ष उन लोगों के खिलाफ है जिन्होंने इमरान खान को स्थापित किया और जिन्होंने चुनाव में हेरफेर किया और उनके जैसे एक अक्षम व्यक्ति को सत्ता में लाए और इस तरह देश को नष्ट कर दिया।

शरीफ की टिप्पणियां देश के लगभग सभी प्रमुख विपक्षी दलों द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय पार्टी सम्मेलन (एपीसी) के दौरान आई हैं। शरीफ ने रविवार को आयोजित सभी दलों की एक वर्चुअल बैठक में हिस्सा लेते हुए कहा कि एपीसी आयोजित करने का मुख्य कारण अक्षम लोगों के सभी को एकजुट करना है जिन्होंने एक नए पाकिस्तान के निर्माण का वादा किया था, लेकिन हमारे महान देश के साथ विश्वासघात किया है।

शरीफ ने मौजूदा शासन के खिलाफ अपने प्रयासों में विपक्ष को एकजुट होने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि विपक्ष के लिए यह समय पाकिस्तान में मौजूदा संकटों से निपटने के लिए एक नई एवं कारगर रणनीति के साथ आगे आने का है। उन्होंने जोर देकर कहा कि देश को उसी को चलाना चाहिए जो बहुसंख्यक वोट के माध्यम से लोगों की ओर से अधिकृत हैं।

शरीफ ने कहा कि पाकिस्तान में सभी वर्गों को देश में लोकतंत्र को बचाने के लिए तत्परता से काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि भले ही मैं अपने देश से दूर हूं, लेकिन मैं अच्छी तरह जानता हूं कि देश और लोग किस हालत में हैं; मेरा मानना है कि यह एक निर्णायक मोड़ है। लोकतंत्र की रक्षा करना आवश्यक है और आप सभी निर्भीक होकर निर्णय लें।