पाकिस्तान की कप्तानी लगभग इमरान के हाथ में तय, 114 सीटों पर आगे

Pakistan's captaincy almost fixed in Imran's hand, ahead of 114 seats
Pakistan’s captaincy almost fixed in Imran’s hand, ahead of 114 seats

इस्लामाबाद। ‘नया पाकिस्तान’ के नारे से आम चुनाव लड़ने वाले पाकिस्तान तकरीक-ए- इंसाफ के अध्यक्ष इमरान खान के सिर पर जीत का सेहरा सजना लगभग तय है। उनकी पार्टी 114 सीटों पर बढ़त के साथ पहले स्थान पर है।

मुख्य विपक्षी दलों पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) 64 और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी(पीपीपी) 42 सीटों पर बढ़त के साथ क्रमश दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं। आतंकवादी संगठन सरगना हाफिज सईद के उम्मीदवारों का सूपड़ा साफ हो गया।

इमरान खान के प्रवक्ता नईमुल हक ने ट्वीट करके बताया कि इमरान खान अपराह्न दो बजे राष्ट्र को सबाेधित करेंगे।

भ्रष्टाचार के मामले में रावलपिंडी की जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पार्टी पीएमएल-एन और बिलावल भुट्टो के नेतृत्व वाली पीपीपी ने मतगणना में बड़े पैमाने पर घांधली का आरोप लगाते हुए अब तक आये नतीजों को खारिज कर दिया है।

नवाज शरीफ के भाई शाहबाज शरीफ और बिलावल भुट्टो चुनाव हारे गए हैं। हाफिज सईद की पार्टी ‘अल्लाह -हु- अकबर’ 265 उम्मीदवार खड़े किए थे किंतु पार्टी खाता खोलने में भी नाकाम रही है।

वर्ष 1992 में अपनी कप्तानी में क्रिकेट विश्व कप घर लाने वाले इमरान की जीत की उम्मीद से पाकिस्तान में सेंसेक्स भारी बढ़त के साथ खुली है। पाकिस्तान चुनाव आयोग ने कहा है कि चुनाव व्यवस्था ठीक रही। रिपोर्ट के मुताबिक 50 प्रतिशत से ज्यादा मतदान दर्ज हुआ।

नेशनल एसेंबली में कुल 342 सीटें हैं जिसमें से 272 सीटों पर चुनाव होते हैं। 60 सीटें महिलाओं के लिए जबकि दस सीटें अल्पसंख्यकों के लिए आरक्षित है। 272 में से दो सीटों पर चुनाव नहीं हुए हैंं और सरकार बनाने के लिए 137 जादुई आंकड़े की दरकार होती है।

चुनाव नतीजे कल शाम से आने शुरू हुए लेकिन करीब 16 घंटे गुजर जाने के बाद भी नतीजों की घोषणा नहीं हुई है। कई जगहों पर धांधली के आरोप लगाए गए हैं। पीटीआई के समर्थक जहां जश्न के माहौल में हैं वहीं पीपीपी और पीएमएल (एन) ने कहा है कि सेना और आईएसआई की तरफ से भारी धांधली की गई।